असदुद्दीन ओवैसी का बिहार प्लान, इन विधानसभा सीटों पर है पैनी नज़र, जानिए

बिहार के विधानसभा चुनाव की तैयारियां बड़ी जोरो शोरो से चल रही है। हर पार्टी अपने पैर मजबूत बनाना चाहती है। ओवेसी की पार्टी ने बिहार के उपचुनाव में भी जीत दर्ज कर सभी को चौका दिया था। इसी बीच एआईएमआईएम की पार्टी बिहार विधानसभा चुनाव में अपनी सीटो को चिन्हित कर लिया है। एआईएमआईएम ने बिहार में A प्लस , A औऱ B ग्रेड में विधानसभा सीटों को बाटा है।

बिहार में एआईएमआईएम युवा प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद आदिल ने आजतक से बात करते हुए बताया है कि बिहार के सभी जिलों में हमारा संग़ठन है। प्रदेश के हर जिलों में मजलिस का उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे। इसके लिए हमने विधानसभा सीटों को चिन्हित कर लिया है।हमारा मुख्य फोकस दलित, मुस्लिमो और अति पिछड़ा बहुल्स सीटो पर है लेकिन इस बारे चुनावी मैदान में सभी समाज के लोगो को प्रत्याशी बनाकर उतारेंगे।

aasaduddin owaisi

इसमें दलित से लेकर ब्राह्मण, राजपूत और भूमिहार समुदाए के भी उम्मीदवार है।मोहम्मद आदिल ने बताया है कि बिहार में मुस्लिम मतदाता जिन सीटो पर 32 फीसदी से ज्यादा है उसको हमने A प्लस में रखा है। A प्लस के लिए 20 सीटों को चिन्हित किया गया है। जिनमे सीमांचल की कुल 16 सीटें शामिल है।

इसके अलावा दरभंगा की दो सीटें मधुबनी की एक सीट और चंपारण की एक सीट शामिल है। इसके अलावा A ग्रेड के तहत 14 सीटें शामिल है। जहाँ पर ओवेसी की पार्टी ने दलित औऱ गैर मुस्लिम प्रत्याशी को मैदान में उतारने की रणनीति बनाई गई है। इनमे काफी सुरक्षित सीटे शामिल है।इसी तरह बी ग्रेड में 16 सीटों को चिन्हित किया गया है।

aasaduddin owaisi

जहाँ पर मु’स्लिम आबादी 15 से 20 फीसदी के बीच है। मौजूदा समय मे बिहार में 24 मु’स्लिम विधायक है। एआईएमआईएम बिहार विधानसभा चुनाव मेंप्रोफेशनल सर्वे एजेंसी की मदद लेने जा रही है।इसके लिए आंध्रप्रदेश की एक सर्वे एजेंसी को ओवेसी ने हायर भी किया है। एजेंसियां इसी सप्ताह से सर्वे का काम शुरू कर देगी। ओ’वेसी की नजर सीमांचल इलाके की विधनसभा सीटों पर है। सीमांचल में 24 सीटें आती है।

Leave a Comment