AC में रहता है यह 30 लाख का ‘ब’करा’ Sultan , ई’द से पहले ब’करे मा’लिकों की लगी लॉ’टरी

ब’क’रा ई’द भारत मे सोमवार को 12 अगस्त को मनाई जाएगी। ब’क’रा ई’द को ब’क’री’द, ई’दु’ल’जु’हा और ई’द अ’ल अ’ज’हा के नाम से जानते है । इ’स्ला’मि’क कलेंडर के मुताबिक 12 महीने के आखिर महीने आने वाले का नाम जि’ल्हि’ज्जा होता है। जि’ल्हि’ज्जा की 10 तारीख को ब’क’रा ई’द मनाई जाती है। यह तारीख र’म’जा’न महीने के खत्म होने के लगभग 70 दिनों के बाद आती है । ब’क’री’द का त्योहार मुख्य रूप से कु’र्बा’नी के पर्व रूप में मनाया जाता है।

इस दिन ब’क’रे की कु’र्बा’नी की जाती है। ब’क’रा ई’द को लेकर दुनियाभर की ब’क’रा मंडियों में बहुत ज्यादा धूम मची हुई है । आपको बता दे कि लखनऊ की ब’क’रा मंडी में सुल्तान नाम के ब’करे को लेकर चर्चा हो रही है। यह ब’क’रा ऐसा वैसा नहीं है ,इस की फुर्ती ची’ते से भी तेज है। ब’क’रा मालिक कहता है कि ऐसा ब’क’रा कहीं नहीं मि ले गा , पूरी मंडी में एक ही है , चाहे तो आप घूम आइये पूरी मंडी में।

जिसकी हदीया (कीमत )30 लाख सात सौ छियासी रुपे रखी गई है। सु’ल्ता’न के एक कान पर अ’ल्लाह और दूसरे कान पर मो’हम्मद लिखा हुआ है। यह कु’दरती लिखा है इसलिए महंगा है। सु’ल्तान को लेकर लखनऊ की ब’क’रा मंडी में पहुँचे आसिम ने बताया कि पहले उसके ब’क’रे की बोली 24 लाख लग चुकी है लेकिन वो 30 लाख सात सौ छियासी से एक भी रूप कम नही लेंगे। क्योंकि उनके ब’क’रे में खासियत है।

वही आसिम ने सुल्तान की पसंदीदा चीज बताई के वो ड्राई फ्रूट में काजू और बादाम ही खाते है। AC में रहना पसंद है। उन्होंने कहा कि ढाई साल के सुल्तान का वजन 65 किलो है। दुबगा ब’क’रा मंडी कमेटी के मुताबिक जहाँ एक तरफ 10, 20 और 50 हजार तक के ब’क’रे है। वही दूसरी तरफ 30 लाख से अधिक कीमत के भी ब’क’रे है । आसिम ने बताया की सुल्तान किसी का झू’ठा खाना नही खाता है और परिवार में सदस्य की तरह रहता है।

ब’क’रों की न’स्लों की बात सबसे पहले बात करते है तो जमनापारी ब’करे की , इसकी क़ीमत 15 हज़ार से 60 हज़ार है। इसके बाद बरबरी न’स्लों की कीमत 18 से 50 हज़ार है। तोतापरी ब’क’रे की कीमत 15 से 50 हज़ार है। अजमेरी ब’क’रे की कीमत 12 से 50 हज़ार है। जबकि देसी ब’क’रे की कीमत 15 -30 हज़ार है। भे’ड़ की कीमत 20 हज़ार से 80 हज़ार है। वही दु’म्बे की कीमत डेढ़ से तीन लाख बताई जाती है।

Leave a Comment