असदुद्दीन ओवैसी से मायावती ने यूपी में क्यों नहीं किया गठबंधन, ये वजह आई सामने !

उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनाव को लेकर कहा जा रहा था कि ओवेसी की पार्टी बसपा के साथ गठबंधन कर सकती है लेकिन बीते दिनों ही बीएसपी की गठजोड़ की खबर पर बसपा की सुप्रीमो मायावती भड़’क गई है। बीते दिनों उन्होंने साफ मना कर दिया है कि इस बात में रत्ती भर भी सच्चाई नही है।

यूपी और उत्तराखंड के आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी अकेले ही लड़ेगी।मीडिया के एक न्यूज़ चैनल में कल से यह खबर प्रसारित की जा रही है को यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव औवेसी की पार्टी Aimim और बीएसपी चुनाव लड़ेगी। लेकिन यह खबर पूरी तरह से गलत है।

aimim and bsp 2022

इसमें बिल्कुल भी सच्चाई नही है।उन्होंने आगे कहा है कि वैसे तो पार्टी में फिर से दोबारा स्पष्ट कहा दिया गया है कि पंजब को छोड़कर यूपी और उत्तराखंड प्रदेश में अगले साल के प्रारम्भ में होने वाला विधानसभा का यह आम चुनावबीएसपी किसी भी पार्टी के साथ कोई भी गठबंधन करके नही लड़ेगी यानी कि अकेले ही इस चुनाव को लड़ेगी।

बीएसपी के बारे में इस किस्म की किसी भी मनगढ़त खबरों को खस ध्यान में रखते हुए अब बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र को बीएसपी मीडिया सेल का राष्ट्रीय कोऑर्डिनेट भी बना दिया गया है। इसके साथ ही मीडिया से इस बात की अपील की गई

bsp 2022

है कि वो बहुजन समाज पार्टी और पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष आदि के बारे में इस क़िस्त की किसी भी भृमित करबे वाली अन्य कोई भी ग’लत खबर लिखने,दिखने और छपने से पहले एस सी मिश्र से इसकी सही जानकारी भी जरूर ले।

आपको बता दे, 2019 के लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने प्रकाश आंबेडकर की बहुजन अघाड़ी से गठबंधन किया था जिसके बाद AIMIM को औरंगाबाद से बड़ा फायदा हुआ था और ओवैसी की पार्टी से इम्तियाज़ जलील सांसद बने थे।

aimim 2022

जबकि बहुजन अघाड़ी को इस गठबंधन का कोई फायदा नहीं हुआ था और उसनेबाद में गठबंधन तोड़ लिया था। राजनितिक जानकर मान रहे है कि यदि बसपा यूपी में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी से गठबंधन करती तो AIMIM को इसका बड़ा फायदा पहुँचता

क्योंकि ओवैसी की पार्टी का मुस्लिम मतदातओं का वोट यदि महाराष्ट्र, बिहार की तरफ झुकाव होता तो उसका विधानसभा में आसानी से खाता खुल सकता था। राजनितिक जानकर मानते है यही वजह रही हो की मायावती ने यूपी में अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा की है।

asaduddin owaisi 2022

आपको बता दे, AIMIM यूपी अध्यक्ष शौकत अली मानें विधानसभा चुनाव में पार्टी 100 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। उनके साथ गठबंधन मे ओम प्रकाश राजभर है। दोनों पार्टियों के अलावा कई दल साथ आ सकते है।

Leave a Comment