ईरान न्यूक्लियर समझौते में अमेरिका बातचीत करने को हुआ तैयार, वियना में हुई बैठक

दुनिया के कई देशों के एक दूसरे से रिश्ते बनते रहते है और नही भी बनते है। हर देश मे किसी न किसी तरीक़े से आपसी सम्वन्ध बनते रहते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा है कि ईरानी करा’र में शामिल होने के लिए उनका प्रशा’सन की पहली प्राथ’मिकता है लेकिन ईरान की पहले प्रति’बन्ध ह’टाए जाने की मांग स’ही न’हीं है।

ईरान के उप विदेश मंत्री अब्बास अरकची का कहना है कि ईरान और अमेरि’का की वि’यना में कोई प्रत्यक्ष और अप्र’त्यक्ष रूपसे बातचीत होगी ।जहां 2015 के पर”माणु सम’झोते के शेष पक्ष हाल ही में मिलेंगे भी। इसके अलावा तेहरान पर प्र;तिब’न्धों को ह’टा’ने पर भी चर्चा भी करेंग । उन्होंने सँयुक्त व्या’पक योजना की संयुक्त बैठ’क में भाग लेने के दो दिन बाद ही रविवार को यह टिप्प”णी भी दी है।

iran news

इसके अलावा सँयुक्त आयोग ने ऑ’स्ट्रिया की राजधानी में व्य”क्तिगत रूप से बातचीत को फिर से शुरू करने पर सहम’ति को व्य’क्त भी किया है ।उन्होंने आगे कहा हम वियना में अमेरि’कियों के साथ प्रत्यक्ष और अप्र’त्यक्ष रुप से भी बातचीत को करेंगे। जेसी’पीओए में वापसी के लिए हमारी शर्त का उच्चारण

भी करेंगे। हमारी मांग है किअमे’रिका को सबसे पहले अपने सभी दायित्वों को पूरा भी करना चाहिए। उसके द्वारा लगाए गए सभी प्रति’बन्धों को ह’टा देना चाहिए। फिर हम ईरा’न द्वारा किएगए उपचा’रात्मक उपायों से पहले इस बात का सत्या’पन भी करेंगे।

iran news

पिछले महीने ही अयातुल्ला खमेनेई ने कहा था कि वाशिंगट’न को अपने परमा’णु प्रति’बन्धों को उलटने से पहले तेह’रान पर लगाए गए सभी प्रति’बन्धों को एक सत्यापन तरीके से हटा देना चाहिए। उन्हीने आगे क’हा हम सँयु’क्त आ’योग में वि’यना में जो कर रहे है।वह ठीक उस प्रति’ष्ठित पदों पर भी आधारित है।

Leave a Comment