असदुद्दीन ओवैसी ने 10 एकड़ में बनवाया कब्रिस्तान, ये है वजह

को’रो’ना वा’य’र’स से अब तक लाखों लोगों की मौ’त हो गई है । को’रो’ना से म’र’ने वालों के लिए पहले से ही क’ब्रे खो’दी जा रही है। इसकी शुरुआत कई दिन पहले ब्राजील में देखने को मिली थी, इसी प्रकार की खबर अमे’रिका, इ’टली से भी सामने आई थी । दे’श मे भी कई राज्यों में को’रो’ना से म’र’ने वालो के लिए क’ब्रे खु’द’वा’ई जा रही है। हैदराबाद के तेलंगाना में इसकी शुरुआत हो गई है। इनके लिए अलग से क’ब्रि’स्ता’न बनाया जा रहा है।

यह क’ब्रि’स्ता’न’ फ़क़ीरमुला में है और शहर से लगभग 15 किलोमीटर दूर है। 50 एकड़ के इलाके में 10 एकड़ में जगह पर अलग से को’रो’ना सं’क्र’मि’त के लिए क’ब्रि’स्ता’न बनाया गया है। ओवैसी की पार्टी आल इंडिया मजलिस एऐतेहादुल मुस्लेमीन के कार्यकर्ता ने वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त से बात करते हुए बताया कि लोकडाउन के बाद से ही को’रो’ना से म’र’ने वालों को दफ’नाने में बहुत दिक्कत हो रही थी।

जिसके बाद असाउद्दीन ओवैसी और अकबरुद्दीन ओवैसी ने क’ब्रि’स्ता’न बनाने का फैसला किया। उन्होंने आगे बताया कि रात को इ’म’र’जें’सी में क’ब्र खो’द’ने वाला कोई नही मिलता है। एक रात को एक को’रो’ना सं’क्र’मि’त पी’ड़ि’त का श’व आया था। क’ब्र खोद’ने के लिए जब जेसीबी को बुलाया गया जब उसे पता चला कि को’रो’ना सं’क्र’मि’त का श’व है तो वो भाग गया।

हालातो में पहले से ही क’ब्र खोदकर रखनी पड़ती है। बता दे कि ते’लं’गा’ना में को’रो’ना के हज़ारों मामले सामने आ चुके है। वही, देश मे पिछले 24 घण्टे में कोरोना के रिकॉर्ड नए मामले दर्ज किए गए है। बता दे, असदुद्दीन ओवेसी हैदराबाद के सांसद और पार्टी के अध्यक्ष है ।

वह देश मे एक लोकप्रिय नेता है और अपने तेजतर्रार भाषण के लिए जाने जाते है । हैदराबाद को ओवैसी का गढ़ माना जाता है, बताते चले पिछले 4 दशक से हैदराबाद से कोई भी ओवैसी के परिवार को हरा नही पाया है ।

Leave a Comment