अजहर अली बने थे डे-नाईट टेस्ट में शतक, दोहरा शतक और तिहरा शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज

अजहर अली ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 14 हजार रनों को पूरा कर लिया है।आजम ट्रॉफी के एक मुकबल में बीते दिनों ही उनको यह मुकाम हाज़िल हुआ है। हालांकि अजहर केकरियर की बात की जाए तो उन्होंने बतौर स्पिन गेंदबाज को शुरू किया।

साल 2002 में उन्होंने बतौर लेग स्पिनरपाकिस्तान की और से फर्स्ट क्लास क्रिकेट की शुरुआत 16 साल की उम्र में कर दी थी। इसों बीच मे वह साल 2004 में स्कॉटलैंड शिफ्ट हो गए। वहां पर उन्होंने बल्लेबाजी पर ध्यान दिया। वह साल 2007 तक वही रहे।

अजहर अली को साल 2010 में पाकिस्तान की और से इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला। इसके बाद वह टेस्ट टीम के रेगुलर सदस्य बन गए। हालांकि वनदे क्रिकेट में वह अधिक सफल नही रहे। 53 वनडे में उन्होंने सिर्फ 37 की औसत से 1845 रनों को बनाया।

उन्होंने 3 शतक और 12 अर्धशतक को जड़े। इसके बाद नवंबर 2018 में उन्होंने वन्द क्रिकट से सन्यास ले लिया। लेकिन उन्होंने टेस्ट को खेलना जारी रखा।अजहर अली का प्रदर्शन टेस्ट क्रिकेट मेंप्रदर्शन अच्छा रहा। वह अब तक 91 टेस्ट की 169 परियों में 43 कई औसत से 6721रन बना चुके है।

उन्होंने 18 शतक और 34 अर्धशतक लगाया है।उन्हों अक्टूबर 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ डे नाइट टेस्ट में नाबाद 302 रन बनाए थे।इस तरह वह डे नाइट टेस्ट में शतक, दोहरा शतक और तिहरा शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बने है।

Leave a Comment