मुंबई में शाहरुख खान के पास जब नहीं थी रहने की जगह, फिर ये इंसान बना फरिश्ता, मिल रही दुआएँ

बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख खान ने अपनी फिल्मों मै भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी जबरदस्त जगह बनाई है। अपनी एक्टिंग के साथ साथ किंग खान अपनी स्टाइल के लिए भी खूब जाने जाते है। लेकिन उनकी सफलता का यह सफ़र कड़ी मेहनत और उनके संघर्ष का ही नतीजा है।

एक वक्त ऐसा भी था जब शाहरुख खान के पास मुंबई में रहने के लिए कोई घर भी नहीं था। लेकिन उस वक्त निर्देशक अजीज मिर्जा ने उनकी मदद के लिए हाथ आगे भी बढ़ाया और उनको अपने घर में रहने के लिए जगह भी दी। बता दे कि शाहरुख खान ने इस बात को जिक्र एक मीडिया इंत्ररेंशन के दौरान ही किया था।

aziz mirza shahrukh khan

उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बताया था कि जब मेरी शादी हुई तो मेरे पास रहने के लिए मुंबई में कोई घर भी नहीं था। लेकिन उस मेरी मदद अजीज मिर्जा ने कि थी। उसके बाद हमने वहा पर रहना भी शुरू कर दिया था।

उन्होंने आगे बताया है कि मैं इस बात को इसलिए बताना चाहता हूं कि यह केवल मेरी फिल्म के निर्माता नहीं है बल्कि मेरी जिंदगी के भी निर्माता है। यह बात मैं उनकी तारीफ के लिए नहीं कह रहा हूं बल्कि अपने लिए भी कह रहा हूं। बता दे कि गौरी खान और शाहरूख खान कि मुलाकात 1988 में हुई थी।

aziz mirza shahrukh khan

यह दोनों। 25 अक्टूबर 1999 को शादी के बन्धन में भी बन्ध गए थे। गौरी खान से शाहरुख खान कि जब शादी हुई उस वक्त वो फिल्म दिल आइशा में काम भी कर रहे थे। आज भी शाहरुख खान के कई बंगले भी मौजूद है। जिसमे मन्नत भी एक भी शामिल है।

Leave a Comment