बाद में कर लूंगा लंच, पहले देश के लिए बनानी ऑक्सीजन …. बगल में रखे टिफिन की ओर नहीं देख भी नहीं रहे मजदुर

Corona काल में उख’ड़ती सासो को था’मने के लिए देश के सभी स्टील प्लांटों कि जरुरत काफी ज्यादा हो रही है। स्टी’ल प्लांट से ही पूरे देश में ऑक्सी’जन की स’प्लाई भी हो रही हैं। देश को सब’से ज्यादा बोका’रो सेल और भिलाई से ऑक्सी’जन ज्यादा मिल रहा है। ।

बो’कारो सेल मे लगे हुए मजदूर और अधि’कारी दिन रा’त प्लां’ट मे काम कर रहे हैं। यह से गर दिन 150 टन ऑ’क्सिजन कि सप्लाई भी बोका’रो से’ल से हो रही है। ऐसे में मजदूर अपनी खुद को चिंता किए बग़ैर ही लोगो कि जा’न बचा’ने कि सोच रहे हैं बता दे की बो’कारो सेल मे दो प्लांट है। दोनों प्लां’टों में म’जदूर तीनों शिफ्टों में काम कर रहे है।

bokaro cell workers

एक शिफ्ट 8 घंटे कि होती है। 8 घंटे कि शिफ्ट में मज’दूर बिना रुके अपने काम को अंजाम से रहे है। उनका आलम यह है कि वो अपने रखे हुए टि’फिन को भी सु’ध नहीं ले रहे है। जब उन्हे कोई टिफिन के लिए याद दिलाता है तो वो कहते है कि अभी बहुत काम है।

मी’डिया से बात करते हुए एक कर्म’चारी ने कहा है कि हम अभी Corona के मरीजों कि जा’न ब’चा’ने के लिए एक छोटा सा योगदान देने का मौका भी मिला है। ऐसे में हम इस वक्त को जाया नहीं कर सकते हैं।

अभी हमे कई लोगो कि जिं’द’गी बचा’ने का भी मौका मिला है। यह काम पूरा होने के बाद ही हम टि’फिन खाते हैं। बता दे की बो’कारो सेल प्लांट से लखनऊ के लिए लगातार ऑक्सि’जन कि सप्लाई भी हो रही है। यह अलग अलग श’हरों में सप्ला’ई हो रही हैं।

Leave a Comment