मुस्लिम युवक की अनोखी शादी, ऊँट पर बैठ कर CAA के खि’लाफ पोस्टर पकड़ दुल्हन लेने पहुँचा दूल्हा

देश मे नाग’रिकता का’नून के खिला’फ वि’रोध प्रदर्श’न देखने को मिल रहा है। इस का’नून के खिला’फ बहुत ज्यादा विरोध हो रहा है और कई राज्यो में लाठी’चार्ज भी हो रहे है। इसी बीच बीते दिनों ही जा’मिया में लाठी’चार्ज हुआ था। जिसमे छात्र और छात्राए घा’यल भी हुए है। नाग’रिकता का”नून को लेकर एक दूल्हे ने इस कानून का वि’रोध अलग अंदाज में किया है।इसदुल्हे का नाम हाजा हुसैन है। यह बारात ऊँट पर बैठकर लेके आए थे।

इनके हाथ मे CAA के खिलाफ पोस्टर लेकर अपनी शादी में पहुँचे। हुसैन 20 किलोमीटर की यात्रा कर शादी के होल में पहुँचे।हुसैन ने नही नही बल्कि सभी बारातियों ने Reject CAA, Boycott NRC or NPR के पोस्टर लिखे हुए अपने हाथों में ले रखे थे। मुस्लि’म स’माज मे दूल्हा दुल्हन को मेहर देता है। यह मुस्लि’म समाज मे रिवाज है। लेकिन हुसैन ने अपनी दुल्हन को संवि’धान दिया है।’

हुसैन एक लोकल व्यवसाय करते है। उनका कहना है कि सीए ए को खा’रिज कर देना चाहिए। इस कानून का खिलाफ देश के अधि’कतर जगहों पर विरो’ध जारी है। इसके अलावा महिलाओं का धरना भी जारी है। दिल्ली के शाहीनबाग में करीब ढाई महीने से औरते अनिश्चि’तकालीन धर’ने पर बैठी हुई है। शाही’नबाग की तर्ज पर लख’नऊ में घ’ण्टाघर में या फिर गया के शांतिबाग के अलावा राजस्थान,एमपी, यूपी समेत कई इलाकों में महिला’ए धरने पर बैठी हुई है।

एनडीटीवी रिपोर्ट के मुताबिक, महि’लाओं का कहना है कि जब तक सर’कार यह का’नून नही लेती वो जब तक अपना विरोध जारी रखेगी। बता दे,सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग प्रोटेस्टर्स के मध्य मध्यस्थता के लिए वार्ताकार नियुक्त किया था । यह वार्ताकार शाहीन बाग पहुँचे और सबकी बात सुनी ।

बाग की दादियों का कहना है कि वो यहां से नही उठेंगे जब तक इस का’नून को वाप’स नही लिया जाता है ।बता दे, नाग’रिकता का’नून के वि’रोध में दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया में बीते 2 महीने से अधिक समय से प्रदर्शन हो रहा है ।प्रदर्शनकारियों का साफ कहना है कि वो जब तक प्रदर्श’न करेंगे तब तक इस कानू’नको वापस नही लिया जाताहै ।

Leave a Comment