उईगर मुसलमानों के समर्थन में ब्रिटेन ने उठाई आवाज, चीन ने ब्रिटेन के 5 सांसदों पर लगाया बैन और चार संगठनों को …

ब्रिटेन और चीन के बीच उइ’गर मुस’ल’मानो के मान’वा’धिकार के उल्लं’घन के मामले को लेकर तना’व बढ़ता जा रहा है। ब्रिटेन ने कुछ दिन पहले इस मा’मले को लेकर ची’नी अधि’कारि’यों के खि’ला’फ प्रति’वं’ध का एलान किया । जिसके बाद ची’नने भी बीते दिन ही 5 सांसदों और 4 संगठनों पर बै’न भी लगा दिया है।

चीन के विदेश मं’त्रालय की प्र’ति’बन्ध वाली सूची को लेकर दो’नों देशों के बीच वि’वाद और ब’ढ़ने के आसार है। जिन नेताओ ओर चीन ने प्रतिबंध लगाया है उनमें कंजरवेटिव पार्टी के पूर्व नेता लेन डंकेंस्मिथ, विदे’श माम’लो की समिति के अध्यक्ष टॉम , पाकिस्तान मूल की नुसरन गनी, टीम लॉफ्टन समेत संसद सदस्यों और हाउस ऑफ लॉर्डस के सदस्यों बरोन्स केनेडी और लार्ड आल्टन के नामभी शमि’ल है।

chin british

बताया जारहा है कि यह सभी सां’सद और नेता चीन पर अंतर संसदीय’ गठबं’धन के सदस्य भी है।इतना ही नही ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि चीन ने आज जिन सां’सदों और ब्रिटि’श नागरि’कों पर प्रति’बंध लगाए है।

वो उइगर मुस्लि’मो के खिला’फ मानवा’धिकार उल्लं’घनों पर रोश’नी डाल’ने में अहम भू’मिका निभा रहे है। उन्होंने कहा है कि उत्पी’ड़न के वि’रोध में आवाज उठाने की स्वतं’त्रता मौ’लिक है। मैं पुरजोए तरीके से उनके साथ खड़ा हूँ।

chin british

कुछ दिन पहले भी ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोनॉमिक राब ने ब्रिटे’न की वैश्वि’क मा’नवाधि’कार पा’बं’दियों की व्यवस्था’ के तहत चीनी अधि’कारि’यों और सं’ग़ठन के खि’ला’फ पाबं’दि’यों की घोषणा भी की थी ।

Leave a Comment