आपके घर में छिपकली आती है तो हु’ज़ू’र पा’क (स.अ.व.) का ये फरमान सुने , जिंदगी ब’दल जाएगी

अ’ल्ला’ह ने कई तरह के जा’न’व”र और की’ड़े म’को’ड़ो को पै’दा किया है। जिनके र’ह’ना , खाना और पीना सिर्फ अ’ल्ला’ह के हा’थ में ही है। अ’ल्ला’ह इन की’ड़ो और दुनिया में मौजूद हर जा’न’वर को उन तक उनका रि’ज़्क़ पहुँचा देता है। आइये आज हम आपको बताते है कि किस जा’न’व’र को दे’ख’ते ही मा’र देना चाहिए। इस जा’न’व’र को मा’र’ने से आपको ने’की भी मिलती हैं। तो चलिए शुरू करते है। हम अक्सर हमारे घरों की दीवारों पर छि’प’कली को दौ’ड़ाते हुए देखते है। जिसने अक्सर छोटे बच्चों से लेकर बड़े तक ड’र’ते है।

कभी कभी तो ये छि’प’कली तो हमारे बि’स्त’रों तक भी आ जाती है। और कभी बा’थ’रू’म में घु’स जाती है ,जिससे हमें का’फी नु’क’सा’न होता है। जिनसे हमें काफी ड’र भी ल’गता है। खा’स’तौर पर जब हम इन्हें र’सो’ई की दीवारों पर देखते है तो हम उन्हें मा’र’ने के बारे में सोचते है। लेकिन हमें ड’र लगता है। अ’ल्ला’ह की बा’र’गाह में कही हम गु’ना’ह’गा’र न हो जाए। इसलिए हम छिपकली को मा’र’ने से गु’रे’ज करते है। या फिर दूसरी व’ज़’ह होती छि’प’क’ली हमसे प’क’ड़ में ही न’हीं आती क्योकि वो का’फी ऊ’प’र होती है।

लेकिन ऐसा नही हैं , इ’स्ला’म मे छि’प’क’ली को मा’र’ने का हु’क्म फ़’र”मा’या हैं। हु’जू’र पा’क ने इर’शा”द फ़रमाया कि आप छि’प’क”ली और गि’र’गि’ट को मा’र स’क’ते हैं। हु’जू’र पा’क स’ल्ला’हु अ’लै’हि व’स’ल्ल”म ने इ’रशा’द फरमाया की जब हजरत इ’ब्रा’हीम अ’लै’हि’स्स’ला’म को आ’ग में डा’ला ग’या तो छि’प’क’ली ने वहां पर और फूं’के दी। ताकि आ’ग और भ’ड़’क जाए। इसलिए हु’क्म है कि उसको देखो तो मा’र दो। हु’जू’र स’ल्ला’हु अ’लै’हि व’स’ल्ल”म ने इरशाद फ़रमाया कि अगर न’मा’ज के दौरान तुम्हे अं’दे’शा हो जाए कि जा’न’ को ख’त’रा है तो उ’सको मा’र दो। इसलिए ये दोनों(छि’प’क’ली+गि’र’गि’ट) जा’न’ले’वा होते है। इसलिए जहाँ पाओ वही पर मा’र दो।

इसको मा’र’ने से 100 ने’की का स’वा’ब मिलता है। इसके अलावा एक और रिवायत है कि जब हु’जू’र पा’क सल्लाहु अ’लै’हि व’स’ल्ल’म गा’रे ही’रा में छु’पे थे तो म’क’ड़ी ने जा’ल बना दि’या था। क’बू’तर ने अं’डा दिया था। लेकिन छि’प’क’लि’यों ने का’फि”रो की तरफ इ’शा’रा करके बता दिया था। इसलिए ही छि’प’क”ली को मा’र’ना चाहिए। ये जा’न’लेवा भी होती हैं। इसलिए इनको मा’र’ते समय सा’व’धानी रखनी चाहिए। अगर छि’प’क’ली कोई ब’र्त’न चा’ट ले तो ह’म पा’नी पी लेते है।

ये हमारे लिए बहुत ही जरूरी है कि इस’को मा’र दे। इससे हमारी जा’न भी जा सकती हैं। ऐसे जा’न’व’रो को मा’र देना चाहिए। आपको जानकारी के लिए बता छिपकली बहुत ज’ह’री’ली होती है। अगर छि’प’कली खाने व’गैरह में गि’र जाए तो ये किसी भी श’ख्श की जा’न ले लेती है। हम अक्सर ऐसी खबरे सुनते होंगे कि फला जगह पर खा’ना बनाते समय छि’प’क’ली गि’र गई थी। वह खा”ना खा’ने से इ’त’ने लो’ग म’र गए। इसलिए हम सभी को चहिये कि खाना बनाने वाली जगह पर कोई भी छि’प’कली न रहने दे। इससे आप सबको सा’व’धा’न रहना चाहिए।

Leave a Comment