नबी ए करीम(स.अ.व.) के शहर में खोजा गए कोरोना का सफलतापूर्वक ईलाज, हदीस में आया है कि …

सऊदी अरब में स्थित मदीना शहर जहाँ पर दुनिया का हर एक मुसलमान जाना चपसंद करता है, वहां जाने के लिए दिन रात दुआ करता है । मदीना शहर मुसलमानों के दिल के करीब है जहां पर हमारे नबी ए पाक पैग़म्बर मुहम्मद मुस्तुफा का शहर है। यहां पर मस्जिदे नबवी स्थित है। तैयबा यूनिवर्सिटी के मदीना में मेडिकल रिसर्चर्स की टीम, मदीना मुनव्वरा में कोविड 19 के मरीजो का सफल इलाज देखने को मिला है।

इन शोधकर्ताओं की टीम ने इस म’रीजो का इ’ला’ज किया और इनके इ’ला’ज में कलौंजी का इस्तेमाल किया गया था। हदीस शरीफ सहीह अल बुखरी में जिक्र आया है कि हजरत अबु हुरैरा र.अ. से रिवायत है कि नबी ए करीम से सुना है कि कलौंजी में मौत के अलावा हर बी’मा’री का इ’ला’ज है। कलौंजी ओर कैमोमाइल के उपयोग के बारे में शोधकर्ता की टीम का पेपर अमेरिकन जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्थ एंड रिसर्च में प्रकाशित किया गया है

coronavirus news saudi arab

और सभी के लिए इसे अपने खुद के देखने मे भी किया गया है। 1 चम्मच कलौंजी , 1 चम्मच कैमोमाइल और 1 चम्मच शहद को मिलाकर चबाए और इसे निगल ले । अपने मुंह को ताजा स्वाददेने के लिए पीने के बाद कुछ नींबू का रस संतरे का रस पी सकते है। ये तैयबा यूनिवर्सिटी का इलाज है।

यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने बताया है कि जब तक कोरोना बी’मा’री ख’त्म नही हो जाती है जब तक रोजाना ले सकते है। अगर खासी है तो आप कलौंजी का तेल, लांग का तेल का इस्तेमाल कर सकते है। टीम के प्रमुख डॉ सलाह मोहम्मद एक सईद ने कहा है कि को’रो’ना के सभी म’रीज जिन्होंने इस उपचार का इस्तेमाल किया है उनके स्वास्थ्य में सुधार हुआ है।

coronavirus news saudi arab

अ’ल्ला’ह का शुक्र है कि वो सभी म”री’ज अपने घरों पर है। इस का उपयोग करने से एक हफ्ते के बाद ही मरीज स्वस्थ दिखने लगता है। बता दे, सऊदी अरब दुनिया के उन चंद देशों में सुमार किया जा रहा है जिसने क’रो’ना से ल’ड़’ने के लिए तेजी से प्रयास किए और क’रो’ना म’रीज भी जल्द ही ठीक हो गए ।

Leave a Comment