अयोध्या के हिन्दू बाहुल्य गांव में अकेले मुस्लिम परिवार को जिताया चुनाव, जिसने सुना कहा, वाह, वाह

ध’र्म नगरी कहे जाने वाले जन’पद अयो’ध्या का एक गांव जो म’वाई ब्लॉ’क के रज’नपीर के नाम से जाना जाता है। जो आज प्रदेश भर में चर्चा का वषय भी बना हुआ है। आज देश मे ध’र्म के आधार दो ध’र्मो के लोगो के बाट’ने की खूब कोषिष की जा रही है। आज भी देश में ऐसा बहुत बड़ा त’बका है जो मान’वता की

मि’साल को कायम किए हुए है।बता दे कि ध’र्म नग’री अयो”ध्या के हिन्दू बाहुल्य गांव रजन’पीर में सिर्फ एक घर मुसलमा’न का है।प्रदेश भर में पँचायत चुनाव होने हो रहे थे ।इस चुनाव में 8 प्रत्याशी उम्मीद’वार भी है। इन्ही प्रत्याशियों में राजनपुर गांव के ही इकलौते मुस्लिम परिवार के हाफिज अली’मुद्दीन खान भी उम्मी’दवारथे।

ayodhya village

चुनाव प्रचार के दौरान सभी पार्टी के प्रत्या’शी अपनी जीत के बड़े बड़े दावे कर रहे थे लेकिन जब चुनाव नती’जे सामने आए तो’गांव वालों के सा’मने चोका’ने वाला एक फै’सला सामने आया।इसके बाद में यह तय हुआ कि हिन्दू बहुलता गांव राजनपुर की अधिकांश जनता गांव के इकलौ’ते

मु’स्लिम परिवार के हाफिज अ’जीमुद्दीन खा के सम’र्थन में बड़ी संख्या में उनको वोट किया है। उन्हें गांव का प्रधान चुन कर साप्र’दायि’कता सौ’हार्द की एक बड़ी मिसाल को पेश किया है बता दे कि राजनपुरजैसे हिन्दू बहुल इलाके से मुस्लिम शख्स को

ayodhya village

प्रधा’न चु’ना गया’ है।जो आज’चर्चा का वि’षय बना हुआ है। जिस’की बड़े पैमा’ने पर लोग सरा’हना भी कर रहे है। आज भी इतनी नफ’रते फै’ला’ने के बाव’जूद भी हि’न्दू मु’स्लि’म कन्धा से कंधा मिलाकर साथ चलने और मदद करने के लिए तैयार है।’

Leave a Comment