अमेरिका जैसे 10 देश खरीद सकता था दुनिया का ये सबसे अमीर मुस्लिम शख़्स, अपनी दौलत से दुनिया को किया था हैरान

दुनिया के इतिहास में जब भी बहस मुबाहिसे की बात आती है तो सबसे पहले अमीर लोगो की चर्चा शुरू हो जाती है। देश मे अगर बात हो तो लोग चर्चा के दौरान कहते है अम्बानी के पास इतना पैसा है । टाटा, अडानी और बिरला किन किन गाड़ियों से कहा जाते है और आलीशान इमारत में रहते है और बड़े बड़े कसीदे गढ़े जाते है । अगर दुनिया मे अमीरों की बात हो और फिर अरब देश की चर्चा न हो ऐसा न ही हो सकता है ।

अरब के शेख किन किन तोर तरीकों से पैसे उड़ाते है इनकी भी खूब सुर्खियां बनती है । आपको बता दे, सऊदी किंग सलमान ने हाल में करोड़ो रूपये भी या यूं कहें दुनिया की सबसे महँगी पैंटिंग ख़रीबी थी । दुनिया मे बिल गेट्स को लेकर या अमेज़ॉन ऑनलाइन शॉपिंग के मालिक कैसे दुनिया के टॉप मोस्ट पैसा कमाने वाले शख्श है अक्सर उनकी ही बात होती है । दुनिया के अरबपति फ़लाने को पछाड़ कर दुनिया का सबसे अमीर आदमी बना बगैरह वगैरह ऐसी सुर्खियां आम तौर पर आपको दिख ही जाती है ।

हम आपको बताने जा रहे है एक ऐसे शख्स के बारे में जिसके पास इतनी दौलत थी की वो अमेरिका जैसे 10 देश भी खरीद सकता था। यह शख्स माली साम्राज्य का राजा मनसा मूसा प्रथम था। जिसने 1312 से 1337 के बीच का शासन किया था। इसको पूरे देश का सबसे अमीर इंसान कहा जा सकता है। उस समय इसके पास करीब $400 मिलियन की प्रॉपर्टी मौजूद थी।

बताया जाता है कि मनसा मूसा की मक्का यात्रा के दौरान कुल 6 हजार लाख सोने के सिक्के खर्च हुए थे। मूसा का साम्राज्य इतना बड़ा और प्रसिद्धि इतनी थी कि उसे अलग अलग जगहों पर कई उपाधियो और उपनामों से नवाजा गया था। उन्हें Emir of melle, Lord of the Mines of Wangara and conqueror of Ghanata आदि नाम दिए गए थे । उनके काफिले में कुल 8 हज़ार ऊँट और हर हर ऊँट पर 300 पाउंड सोना लदा होता था।

बताया जाता है हज के दौरान इनके काफिले में 60,000 लोग शामिल रहते थे, इन सभी लोगों के पास सोने से बनी छड़ी हुआ करती थी । जो ये अपने साथ ही लेकर चलते थे ।बता दे मूसा ने उस जमाने मे कई मस्जिदे भी बनाई थी। इन्होंने स्कूलों और विश्वविद्यालयों की स्थापना भी की थी। मूसा की यादें आज भी विश्व इतिहास में एक इतिहास बनकर रह गई है ।

Leave a Comment