हागिया सोफिया का मस्जिद में बदलना मस्जिद-ए-अक़्सा की जीत का पहला कदम- तैयब एर्दोगन

तुर्की शहर के इस्ताम्बुल में मौजूद विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक ईमारत हगिया सोफिया जो 1943 से म्यूजियम में थी उसे तुर्की कोर्ट ने मस्जिद में बदलने का आदेश दे दिया । यह आदेश 10 जुलाई 2020 को जिसके बाद इस मस्जिद को पर्यटक स्थल के साथ साथ यहां पर नमाज पढ़ी जा सकेगी । इससे पहले तुर्की सदर रजब तैयब एर्दोगन ने साफ किया था जल्द ही हागिया सोफिया को मस्जिद में तब्दील कर दिया जाएगा ।

इस ऐतिहासिक घ’टना बाद पूरी दुनिया मे जश्न का मनाया जा रहा है। तुर्की की अदालत ने 86 साल के बाद ऐतिहासिक फैसला दिया है। ये तुर्की के लिए बहुत बड़ी जीत है। तुकी की सड़कों पर लोगो ने जश्न मनाया है। तुर्की के लोगो के लिए राष्ट्रपति एर्दोगान ने कहा है कि सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है और 24 जुलाई को शुक्रवार की नमाज अदा की जाएगी। बता दे कि अनदोलु एजेंसी ने एक रिपोर्ट में इस बात को कहा है।

erdogan hagia sophia

राष्ट्रपति ने कहा है कि हगिया सोफिया के दरवाजे तुर्क, विदेशी मुस्लिम, गैर मुस्लिम के लिए भी खुले रहेंगे। तुर्की कोर्ट ने भी बीते दिनों कहा था कि हगिया सोफिया अब म्यूजियम नही रहा और 1934 के कैबिनेट फैसले को भी रद्द कर दिया गया है।इस का इतिहास काफी समय पुराना है पहले ये एक चर्च रहा बाद में सुल्तान ने हगिया सोफिया को खरीदकर चर्च से मस्जिद बनाने का फैसला किया था।

प्रथम विश्व युद्ध के समय तुर्की को हार का सामना करना पड़ा ओर आधुनिक तुर्की के निर्माता कहे जाने वाले मुस्तुफा कमाल पाशा ने इस सिलसिले में हगिया सोफिया को मस्जिद में बदलकर म्यूजियम बना दिया गया था। 1935 में इसे आम जनता के लिए खोल दिया गया था। 1500 साल पुरानी ये इमारत यूनेस्को की विश्व स्थल में शामिल है। तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान ने पिछले आम चुना’वों में भी इसे मस्जिद बनने का वादा किया था।

erdogan hagia sophia

हगिया सोफिया में जीत होने के बाद लोगो की काफी भीड़ देखने को मिली और अल्लाह अकबर की सदाए गूंज रही थी। सोशल मीडिया पर इस मस्जिद की 86 साल बाद दी अजान का भी वीडियो सोशल मीडिया पर वा’यरल हो रहा है। बता दे, हगिया सोफिया की मस्जिद में 86 साल बाद जब अजान दी गई तो लोग भा’वुक होकर रो’ने लगे। एर्दोगान के इस ऐतेहासिक फैसले के बाद पूरी दुनिया में रजेब तैयब एर्दोगान की तारीफ हो रही है तो कुछ लोग इसकी आलोचना भी कर रहे है।

बता दे, एर्दोगन ने इस मौके पर एक संबोधन में कहा कि ये इस्लामिक दुनिया के लिए महत्वपूर्ण कदम है, ये मुसलमानों को अँधरे से उजाले की ओर ले जाने वाला समय है । एर्दोगन ने कहा कि हागिया सोफिया को मस्जिद में बदलने का फैसला मस्जिद ए अक़्सा के खोलने की ओर पहला कदम है । उन्होंने मु’स्लिम दुनिया के देशों को भी अब एकजुट होकर बु’री ता’कतों से लड़’ने का समय है ।

erdogan hagia sophia

हागिया सोफिया मस्जिद को बदलने के बाद एर्दो’गन के तेवर से लग रहा है कि आने वाले समय मे ओर भी कई घोषणाए कर सकते है । आपको बता दे, ईसी वर्ष मई के महीने में ग्रीस ने पूर्व बें’जाइन्टिन सा’म्राज्य पर ख़ि’लाफ़ते उस्मा’निया के आ’क्र’मण की 567 वी वर्षगांठ पर हगिया सोफिया में कु’रान को पड़े जाने पर भी आप’त्ति जाहिर की थी।

ग्रीक ने कहा था एर्दोगन रा’जनीति के लिए ऐसा कर रहे है । ग्रीक के चर्च से एर्दोगन के किये बयान जारी कर कहा था कि वो धर्मि’कता का प्रमुखता दी रहे है ।बता दे, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोमपियो ने एक बयान में कहा था तुर्की हागिया सोफिया को मस्जिद में नही बदले उसे म्यू’जियम में ही रहने दे ।

Leave a Comment