एर्तुगल गाजी देखने वालों के खिलाफ जारी हुआ फतवा, इस मुस्लिम देश ने लगाया फतवा, जानिए

तुर्की देश मे बना इरतुगरूल गाजी सीरियल ने सारी दुनिया मे धूम मचा रखी है। दुनियाभर में इस सी’रिय’ल को काफी पासन्द किया जा रहा है। दुनियाभर में अब तक 700 मिलि’यन लोगो ने इस सी’रियल को देख तमाम रिकॉर्ड तोड़े है। तुर्की टी’वी सी’रियल ने यूरोप, एशिया देशो में दर्शकों के बीच अपनी अलग पहचान बना रखी है। पा’कि’स्ता’न में सबसे ज्यादा इस सीरि’य’ल को पसन्द किया जा रहा है।

तुर्की भाषा मे डब करके पा’किस्ता’न ने उर्दू भाषा मे रिलीज किया है। इस सीरियल को काफी संख्या में देखने के बाद पा’कि’स्तान में फत’वा जारी किया गया है। ये फ’तवा कराची के जमी’यतुल उ’लूम इस्ला’मिया अल्लामा मुहम्मद यूसुफ बनुरी टाउन ने जारी किया है। बता दे कि फतवा जारी करने वाला मद’रसा दे’वबंद से जुड़ा हुआ है। दारुल इफ्ता ने अपनी वेबसाइट पर फतवा जारी किया, जिंसमे कहा गया है कि शरि’या उन कृ’त्यों को जा’यज घोषित करता है जो दो शर्तो को पूरा करता है।

ertugrul fatwa

इस्ला’म तुर्की सीजन को देखने को अनुमति नही देता है। एक दूसरे फतवे में कहा गया है कि इस संस्था ने सुझाव दिया है कि ख़िला’फ़ते उस्मा’निया के इतिहास को आसनी से उपलब्ध विषय पर इतिहास की किताबें और साहित्य को बनकर भी बताया जा सकता है। कराची के जामि’या उलूम ने भी इस्लामी नाटकों के खिलाफ पहले से जारी हुए फ’तवे की कॉपी उपलब्ध कराई है।

फत’वे ने सभी मु’स्लिमो को दूर रहने और ऐसे ना’टकों से बचने की सलाह दी गई है हालांकि तुर्की नाटक के बारे में सबकी अलग अलग राय है।फत’वे के मुताबिके, इ’स्ला’म और इ’स्ला’म व्य’क्तियों का उनके कामो को किसी भी नाटक या फिर फिल्मों से माध्यम से बताना इन लोगो की भाव’ना’ओ को ठेस पहुँचना है ।

ertugrul fatwa

इसके साथ ही इस बात को भी कहा गया है कि हाई प्रोफाइल पर्सनालिटी की भूमिका निभाकर इस्ला’म की सेवा करना करना ही सही नही है।1299 में स्थापित होने के बाद उस्मा’निया स’ल्टनत दुनिया के सबसे शक्ति’शाली राजवंशों में गिनी गई। उसने तुर्की और आसपास के इलाकों में 600 से अधिक बरसो तक शासन किया। 1922 में प्रथम वि’श्व’यु’द्ध की समा’प्ति के बाद तुर्की में इस रा’ज’वं’श स’मा’प्त हो गया।

Leave a Comment