अशरफ़ गनी फिर बने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति, EU और UN ने जताई काम करने इच्छा, अमेरिका ने मानी हा’र !

अफ’गानिस्तान के राष्ट्र’पति के रूप में अश’रफ गनी ने अपना दूसरा कार्य’काल हासिल कर लिया है। चुनाव आ”योग के प्रमुख आलम नुरिस्तानी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि 50.64 फीसदी वोट प्राप्त करने वाले अशरफ गनी को अफगानिस्तान का राष्ट्र’पति घोषित करता है। इसी बीच UN की तरफ से बयान में कहा गया है कि वह भविष्य में अफ”गान प्रशासन के साथ काम करने के लिए तैयार है।

यह बयान UNAMA ने जारी किया है। बयान दे कि UNAMA एक राज”नीतिक यूएन मि’शन है। इसकी स्थापना अफगानिस्तान सरकार के अनुरोध के बाद कि गई थी। अफगा निस्तान में स्थायी शां”ति और विकास की नींव रखना इसका लक्ष्य है।राजनीतिक यूएन मिशन का बयान उस वक्त आया जब अफगानिस्तान इलेक्शन कमीशन ने साल 2019 में सितंबर महीने में हुए राष्ट्रपति चुनाव के परिणाम का एलान किया था ।

अशरफ गनी के प्रतिद्वंद्वी अब्दुल्ला 39.52 फीसदी वोट हासिल करके दूसरे स्थान पर रहें। वही दूसरे तरफ चुनाव में हार का सामना करने वाले अब्दुल्ला नेकहा कि इस चुनाव में धांधली हुए है। EU के प्रतिनिधि जोसेप बोरेल ने भी अफगानिस्तान राष्ट्रपति अशरफ गनी को जीत की बधाई दी है।

अफगानिस्तान पर पूरी दुनिया की नजर टिकी हुई है क्योंकि अमे’रिका ने 20 साल की लंबे वक्त के बाद हार मान ली है और अपने सैनिकों को वापस अमेरिका में बुलाने का ऐलान कर दिया है । अफगानिस्तान के चुने गए राष्ट्रपति भी आने वाले समय मे काफी अहम रोल अदा कर सकते है ।

un

बता दे, अफगान में ता’लि’बा’न से वार्ता करने के लिए अमे’रिका तैयार हो गया है । जल्द ही इसका घो’षणा हो जाने की उम्मीद भी जताई का रही है । अमे’रि’की मीडिया ने भी इस खबर को प्रमु’ख’ता से कवर किया है ।

Leave a Comment