किसान आंदोलन ने किया भाजपा को परेशान, केंद्रीय मंत्री ने दिया बड़ा बयान

केंद्र सर’कार के कृ’षि का’नू’न के ख़ि’ला’फ़ देश में कि’सान आन्दो’लन कि शुरु’आत 26 Nov ember 2020 को पंजाब और हरि’याणा में हुई थी। जिसके बाद फिर अन्न’दाता दि’ल्ली के लिए नि’कल पड़े।

दि’ल्ली की सीमा’ओं पर करीब 100 दिनों से किसान लगातार प्रदर्श’न कर रहे है। कि’सान संग’ठन और कें’द्र सर’कार’ के बीच कई बार बात भी हो गई है। लेकिन कोई हल नही निक’ला है। फिलहाल सरकार नेअभी तक किसा’न संग’ठनों से बातची’त के लिए कोई तारी’ख तय नही की है।

sanjiv baliyan farmers

इसी बीच केंद्र सरका’र में मंत्री संजी’व ने कहा है कि बीजे’पी पर किसा’नों का प्रद’र्शनक प्रभा’व पड़ा है। यूपी की पु’लिस 28 जनवरी को गाजी’पुर बॉर्ड’र को खाली करवाने के लिए नही पहुँ’चतीहै तो क्या यह आं’दो’लन फै’लता?

इस सवाल के जवा’ब में सं’जीव ने कहा है कि मैं इस बात से स’हमत हूं। इसे टा’ला भी जा स’कता है।इसके अलावा इसकपुरा जबाव सिर्फ यूपी के आदि’त्यना ही दे सकते है। पश्चिमी यूपी के जाट मुस्लि’म गठजो’ड़ के बारे में पूछे गए सवाल को लेकर उन्होंने कहा है कि इस क्षेत्र में मुसल’मा’नो ने कभी भी जाट उम्मी’दवारों को वो’ट नही दिया ।

sanjiv baliyan farmers

किसा’न आं’दोलन को लेकर कई रैलि’यां भी नि’काली गई है और अब कि’सान अब बॉ’र्डर पर ड’टे हुए है। किसान आंदोलन को लेकर कई लोगो ने वि’रोध भी किया है।

Leave a Comment