दो बार हुुए असफल पर नहीं मानी हार, फजलुुल हसीब बनेे अफसर, ऐसे किया UPSC टाॅप

हर इंसान की जिंदगी में परेशा’निया अलग अलग रूप में होती है। जिन्हें देखकर कुछ लोग तो घुटने टेक देते है ओर कुछ लोग अपनी सफलता और लक्ष्य को पूरा करने की ठान लेते है। अपना इतिहास लिख देते है। ऐसे ही यूपीएससी में दो बार असफल होने के बाद फजलुल ने अपना कहानी बयां करते हुए बताया है कि यूपीएससी की परीक्षा का नेचर अलग होता है। कोई विद्यार्थी पहले परीक्षा अंतिम चरण तक तो पास हो सकता है लेकिन अगली प्री भी वो पास नही कर पाए।

कई बात तो के कैंडिडेट पिएइ राउंड तक भी पहुँचकर भी पास नही होते है। फजलुल कहना है कि यह परीक्षा बहुत बड़ी है जिसकी सफकता का कैंडिडेट इंतजार करते है। दो या फिर तीन साल की मेहनत से अगर आपको इतना बड़ा पद मिल जाता है तो इसमी कोई बात नही आप ऐसा जरूर कर सकते है।

Fazlul Habeeb IAS

फजलुल कहते है कि हर कोई तैयारी के लिए अलग अलग तरीके अपनाता है कोई दुसरो के अनुभव को अपनाता है ऐसा नही कर। आपको जैसा सही लगे वैसा करे। फजलुल अपना उदाहरण देते हुए बताते है कि मैने कभी भी किताबे नही पड़ी। अपने रिसोर्स हमेशा ही सीमित रखें। कुछ फेमस औरबढ़िया किताबे ली और आखिर तक उन्हें किताबो से आगे की तैयारी की।

उनको रिवाइज किया और मास्क टेस्ट भी किए। बता दे कि फजलुल का सेलेक्शन 3 बार मे हुआ है। पहले दो बार वो सेलेक्ट नही हुए। अपने 2016 के टेस्ट के बारे में उन्हींस कहा है कि उनकी सबसे बड़ी गलती थी राइटिंग टेस्ट नही किया था। उन्होंने बताया कि दूसरे अटेंप्ट में उनका मेथ्स का पेपर छूट गया था।

Fazlul Habeeb IAS

जहाँ तो ही सके मास् टेस्ट भी किए और आप भी ऐसा ही करे। इसके साथ ही आपको कमियां का भी पता चल जाता है। कुछ समय निकालकर देखे की जो आपने आंसर दिए है वो गलत है या सही है ।सफलता देर से सही लेकिन मिलती जरूर है।

यूपीएससी 2019 का रिजल्ट बीते दिनों ही आया है। जिंसमे 44 मुस्किम कैंडिडेट्स का सलक्शन हुआ है। इस साल 829 उम्मीदवारों को पास किया गया है। इनमे 304 जनरल के,78 ईडब्ल्यूएस, 251 ओबीसी,129 एससी और 67 उम्मीदकार एसडी के है।

Leave a Comment