इस यूरोपीय देश में मु’स्लिम महिला ने नहीं उतारा हि’जाब, पुलिस ने किया गि’रफ़्तार,सड़कों पर…

मु’स्लिम धर्म में लड़कियों हो या औरत उनके प’र्दे में रहने का हुक्म दिया जाता है । मु’स्लिम लड़कियों को हिजा’ब या बु’र्क़ा पह’नने की तालीम दी जाती है उनके घर से मिलती है । ऐसे कई मामले सामने आते है या हमें आय दिन सुनने को मिलते है कि इस जगह पर बु’र्का पहनने के कारण उसे सेरेमनी अवार्ड,मेडल नही दिया गया , या स्कूल /कॉलेज से निकाला दिया गया । ये सब हमारे मुल्क में हमें देखने को मिलती उपरोक्त दोनों घटना बीते महीनों यूपी में हुई है।

ताज़ा मामला भी इसी तरह की घटना का सामने आया है । यह मामला इस देश से हज़ारों किलोमीटर दूर बसे फ्रांस में घटित हुआ है । आपको बता दे, पूरी दुनिया की मु’स्लिम समाज में हर औरत, लड़किया हि’जाब पहनती है। फ्रांस में महि’ला हि’ज़ाब से ही निकलती है। जो कि हर देश कि मु’स्लि’म महिलाओं की तरह फ्रां’स की मु’स्लि’म म’हि’लाओं का भी है।

फ्रां’स में एक महिला ने हिजा’ब को पह’नने का मा’मला सामने आया है। एक महिला जो हिजा’ब पहनकर ड्रा’इविंग कर रही थी। उसको हि’जाब को उतार’ने के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने हि’जाब न’ही उ’तारा। महिला को इस बात के लिए गि-रफ्तार कर लिया है। पेरिस के उत्तर में स्थित ओबर विलर्ज शहर में पुलि;स आयु’क्त के यहां महिला को हि’रासत में रखा गया था।

हालांकि फ्रांस के पु:लिस विभाग ने बताया कि इस महिला को छो’ड़ दिया गया है। जब सोशल मीडिया पर जब लोगो का गु’स्सा ह’द से ज्यादा ब’ढ़ गया तब इस महिला को छो’ड़ दिया गया। फ्रां’स पुलिस ने इस पर स’फाई पेश की है । उन्होंने कहा की महिला को इस लिए गिर:फ्तार किया गया कि महिला ने पु’लि’स की बे:इज्जती की है।

न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार पेरिस के उत्तरी उपनगरीय इलाके सेंट डेनिस में हिजा-ब के साथ ड्राइविंग कर रही महिला को गि;रफ्तार किया गया है। इस महिला को गि’र’फ्ता’र करने के बाद सो;शल मी:डिया पर हंगा;मा मचा हुआ था ।हालांकि अब मामला पूरी तरह से शांत हो गया है । लेकिन अब यहां पर ये सवाल बनता है कि आखिर ऐसा क्यों हुआ ? सवाल तो ये भी बनता है आखिर लोगों को बु’र्के से इतनी दिक्कत क्यों है ?

Leave a Comment