गोल्ड मेडलिस्ट छात्रा ने फा’ड़ी CAA की कॉपी,इं’क़लाब जिं’दा’बाद बोलकर कहा – हम कागज़ न’हीं ….

नाग’रिक’ता का’नून को लेकर देश के अलग अलग राज्यो में सभा और रैलियां निकाली जा रही है। लोग अलग अलग अंदाज में, अपने अपने तरिके से इसका वि’रोध कर रहे है। कई यूनि’वर्सिटी के छात्र और छात्राएं सड़को पर मार्च निका”लकर इस कानून के खि”लाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे है। दिल्ली के जामि’या हो या फिर अलीगढ़ यूनिव’र्सिटी हो दिल्ली यूनिवर्सिटी हो, बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी हो या हैदराबाद यूनिवर्सिटी हो या प्रतिष्ठित ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी हो बर्लिन यूनिवर्सिटी हो इसका विरोध देखने को मिला था।

इसी बीच ही कोलकाता की जाद’वपुर यूनि’वर्सिटी से इस कानू’न के वि’रोध के एक अल’ग ही तस्वी’र सामने आई है। दि’क्षान्त समा’रोह के वक्त एक गोल्ड मेडलिस्ट छात्रा ने का’नून का वि’रोध करते हुए मंच पर आकर सबके सामने उस का’नून की कॉपी को फाड़ दिया। इसके बाद इं’क’लाब जिं’दाबाद के नारे लगाए। रिपोर्ट्स के मुताबिक बताया गया है कि दे’वस्मि’ता चौध’री नाम की ये छा’त्रा मंच पर पहुँची।

muslim

और अपनी एमए की डिग्री और मेडल लेने के बाद मंच पर ही ना’ग’रि”कता सं’शोध’न का”नून की कॉ’पी को फा’ड़’कर ना’रे लगाए। छात्रा ने कहा कि “ह’म का’गज न’ही दिखाएंगे, इं’कलाब जिंदाबाद। “इस दौरान मंच पर कु’लप’ति, उ’पकु’लपति और रजि’स्ट्रा’र मौजूद थे। ये वीडियो सोशल मी’डिया पर खूब वायरल हो रही है। इसके कमें’ट भी यूजर्स दे रहे है।

एक यूजर्स ने लिखा है कि ,उसने अपनी डिग्री क्यों न’ही फा’ड़ी,शि’क्षा’ का कोई मतलब न”ही होता है क्या? बता दे कि केरल और पश्चि’म बंगाल के मुख्यमं’त्रियों ने अपने अपने राज्यों में NPR ला’गू नही करने की बात की है। इस पर केंद्री’य ‘मं’त्री अ’मि’त शा’ह ने कहा है कि मैं दोनो मुख्यमंत्रियों से अपील करता हूं कि वो ऐ’सा कद’म ना उ’ठाए। अपने फै’सले पर दो’बारा विचा’र करें।

Leave a Comment