86 साल बाद हागिया सोफिया मस्जिद में गूँजी अल्लाहु अकबर की सदाए, मुस्लिमों ने मनाया जश्न

तुर्की शहर इस्तांबुल की विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल हागिया सोफिया को म्यूजियम से मस्जिद में बदलने के बाद पूरी दुनिया मे जश्न मनाया जा रहा है । तुर्कि के प्रथम विश्व युध्द हार के बाद ख़िलाफ़ते उस्मानिया का भी तुर्की से खात्मा हो गया इसके बाद तुर्की में सत्ता परिवर्तन हुआ । जब उस्मानिया सल्तनत के बाद मुस्तुफा कमाल पाशा तुर्की के सदर बने तो इन्होंने 1934 में हागिया सोफ़िया मस्जिद को म्यूजियम में तब्दील कर दिया था।

अब तुर्की की अदालत ने 86 साल बाद ऐतिहासिक फैसला दिया । इस फैसले के बाद हागिया सोफिया म्यूजियम फिर से मस्जिद बनाने फैसला किया है। ये तुर्की के लिए बहुत बड़ी जीत बताई जा रही है । हागिया सोफया को मस्जिद में तब्दील करने के बाद तुर्की की सड़कों पर लोगों ने जश्न मनाया ।

hagia sophia

बीबीसी ने एक रिपोर्ट साझा की है जिसके अनुसार बीते शुक्रवार को ही तुर्की की एक अदालत ने हागिया सोफिया को म्यूजियम से मस्जिद बनाने के लिए इशारा दे दिया था ।गौरतलब है कि अब हागिया सोफिया अब म्यूजियम नही रहा । तुकी की एक अदालत ने 1934 के कैबिनेट के उस फैसले को भी रद्द कर दिया जिसमें उन्होंने कहा था मस्जिद से म्यूजियम बना रहेगा ।

https://www.youtube.com/watch?v=4a1SCeD-Wwk

करीब डेढ़ हजार साल पुरानी इस इमारत को।देखने के लिए दुनिया भर दे लोग आते है । तुर्कि सदर ने साफ किया इसमे अब से नमाज हुआ करेगी और इस मस्जिद में दी गई अज़ान को भी लोग सोशल मिडीया पर शेयर कर रहे है । बता दे, हागिया सोफिया की मस्जिद में 86 साल बाद जब अ’ज़ान दी गई तो लोग भा’वुक होकर रो’ने लगे । एर्दोगन के इस ऐतिहासिक फैसले के बाद पूरी दुनिया रजब तैयब की तारीफ हो रही है तो कुछ लोग इसकी कड़ी आ’लोच’ना भी कर रहे है ।

hagia sophia

कई देशों की इस मामले में प्र’ति’क्रिया आई है । अमेरिका , ग्रीक की टिप्पणी से साफ है कि वो ए’र्दोगन के इस फैसले से खुश नही है । अमेरिकी विदेश मंत्री पोमपियो ने कहा कि इमारत को जस की तस रहना दिया जिससे किसी की धा’र्मि’क भा’व’ना’एं नही भड़के । वही ग्रीक ने भी इस फैसले पर कड़ा आ’प’त्ति द’र्ज कराते हुए बयान जारी कर कहा है कि एरोडोगन चुनाव जीतने के लिए ऐसा कर रहे है ।

Leave a Comment