कोरोना संकट के बीच सऊदी अरब से आई खुशखबरी, हज 2020 के लिए इस मुस्लिम देश से आएँगे 20 फीसद हज यात्रि

को’रो’ना वा’य’र’स की वजह से हर देश और हर इंसान एक दम रु’क से गया है। को’रो’ना की वजह से सभी लोग एहतियात बरत रहे है। को’रो’ना की वजह से स’ऊदी में हर साल लाखों की संख्या में ह’ज करने के लिए जाते है। को’रो’ना की वजह से ह’ज और उ’म’रा’ह को नि’लं’बि’त कर दिया गया था। स’ऊदी अ’रब में स्थित म’क्का औऱ म’दीना शहर मु’स्लि’मो के लिए पवि’त्र स्थ’ल है। हर साल सऊदी अरब सर’कार लाखों ह’ज या’त्रि’यों के लिए व्यस्थाएँ करती है। ह’ज या’त्री पूरी दुनिया से आते है।

इतनी संख्या में यात्रियों के म’क्का मदी’ना पहुँचने से को’रो’ना सं’क्र’म’ण फै’ल’ने की आ’शं’का थी। इसलिये सऊ’दी अ’रब स’र’कार ने उ’म’राह को नि’लं’बि’त करदिया था। द इ’स्ला’मि’ल इन्फॉ’र्मेशन के मुताबक, सऊदी अरब इस साल होने वाले ह’ज के लिए पा’कि’स्ता’न से आने वाले ह’ज या’त्रि’यों को 20 फीसदी लोगो को ही अनुमति देगा। स’ऊदी अरब के ‘धा’र्मि’क अ’धि’का’री इस साल ह’ज के लिए पा’कि’स्ता’न से केवल 20 फीसदी यात्रियो पर विचार करने की यो’जना बना रहे है।

सऊदी अरब के धा’र्मिक मा’म’लों के मंत्रा’लय के नू’र उ’ल ह’क का’द’री ने कहा कि सरका’र इस मा’मले पर स’ऊदी के अधि’का’रियों के साथ चर्चा कर रही है। बता दे कि सऊदी अरब में अब तक 42, 925 को’रो’ना’वा’इ’र’स पॉजि’टि’व के’स पाए गए है।सऊदी अरब में रम’जान के महीने में भी क’र्फ्यू लगा दिया गया था। सऊदी अरब में 9 बजे से शाम को 5 बजे तक लोगो की आ’वाजाही को शुरू किया गया ।

को’रो’ना वा’इ’र’स के प्रसा’र को रोकने के लिए स’ऊदी अरब ने सभी हवाई सेवाको भी प्र’ति’बं’धि’त कर रखा था। इसके साथ ही सभी धा’र्मि’के स्थ’लों पर भी रो’क लगा दी थी।बता दे,सऊदी अरब में बीते महीने के आखिरी साप्ताह से म’स्जि’दे खो’ल दी थी । इससे पहले सऊदी अरब की पवित्र म’स्जि’दो में आम लोगो को न’मा’ज प’ढ़ने पर पा’ब’न्दी थी लेकिन अब धीरे धीरे सऊ’दी हुकूमत म’स्जिद आम लोगो केलिए भी खोल रही है ।

बता दे, सऊदी में अभी भी हज़ारों मजदू’र फं’से हुए है । इनमें उन मज’दूरों की संख्या ज्यादा है जिनके पास बीते 3 महीनों से कुछ भी काम नही है। और आगे भी उन्हें कोई उम्मीद नजर नही आती है ।बता दे, सऊदी सहित गल्फ देशों में होटल इंडस्ट्री पूरी तरह से ठप पड़ चुकी है , अगर ऐसा ही चलता रहा तो प्रवासी मजदूरों को आगे भी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है

Leave a Comment