हिजाब पहनने वाली औरंगाबाद की छात्रा ने ब्रिटेन में जीता छात्र संघ अध्यक्ष का चुनाव

दक्षिणी भा’रत के राज्य क’र्ना’टक में हिजाब को लेकर विवा’द जारी है। क’र्नाट’क हा’ई को’र्ट द्वारा हि’जा’ब को गै’र इ’स्ला’मी करा’र दिए जाने के बाद छा’त्राओं ने सु’प्रीम को’र्ट का रु’ख लिया है। जनवरी 2022 में शुरू हुआ यह वि’बा’द अब कई जगहों पर देखा भी गया है।

ऐसे में औरंगबाद कि छात्रा सबह’त खान ने ब्रिटेन में शे’फील्ड हो’ल्म यूनि’वर्सिटी की छात्रा सब’हत खा’न ने सं’घ का चु’नाव जीता है। यह चु’नाव उन तमामं लोगो के मुंह पर एक तमाचा है जो हिज़ा’ब को तर’क्की की राह में एक रु’काव’ट मानते है।

पब्लिल हेल्थ कोर्स में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रही सबाहत खान ने 6,900 मतों से कुल 2,500 मतों पर अपनो जीत की वोट हा’सिल करके जीती है।अपनी इस कामयाबी पर बात करते हुए स’बाहत खान ने कहा कि लोगो ने मुझे एक नेता के रूप में चुना है। जो उनके लिए हर क्षमता रखता है।

उन्होंने मुझे प’हनावे के रूप में स्वी’कार नही किया है।सबा’हत ने आगे बताया है कि मैं कौन हूं और हि’जाब पहनने वाले को शसक्त बनाने के लिए अपने नि’यंत्रण में सब कुछ करूंगी। मैं औरं’गाबाद से आती हूं। लेकि’न मेरे पास विचार थे और देखते है कि वह मुझे कहा पर ले जाते है।

जानकरी के मुता’बिक बता दे कि सबाहत खान ने बाबासाहेब अंबेडकर यूनिवर्सिटी से मराठवाड़ा से बीएससी की है। उन्होंने कहा है कि म’हा’मा’री के दौरान अंतरास्ट्रीय छात्र अधिकरी के रूप में उनके काम मे उन्हें सभी पृष्टभूमि के अंतरास्ट्रीय छात्रों से जुड़ने में मदद मिली है।

Leave a Comment