दूसरों के घरों में बर्तन मांझती थी इल्मा अफरोज़, अमेरिका में नौकरी छोड़ बनी IPS अफसर

हर किसी की जिंदगी में परे;शा’नी आती रहती है और हर कोई मुश्किल को मात देते हुए अपनी जिंदगी को आगे बढ़ाना चाहते हैं । लकिन ई सब के बीच यूपी के मुरादाबाद की रहने वाली इलमा ने जिंदगी में बहुत संघर्ष किया है। उन्हीने लोगो के घरों में जाकर बर्तन भी साफ किए है। उन्होंने खेतो में भी काम किया है।आज वो आईपीएस अफसर है।

जीवन के परेशानी को देखते हुए उन्होंने पढ़ाई जारी भी की है।इल्मा की जिंदगी जब बदल गई जब वो 14 साल की कम थी तो कम उम्र में ही उनके पिता चल बसे।इल्मा का छोटा भाई दो साल छोटा है। जब पिता की मौत हुई तो मुसीबतें पहाड़ बनकर टूट पड़ी। इल्मा की अम्मीके सामने बड़ी मुश्किल आ पड़ी।उन्हीने अपने पेसो से बेटी को भी पढ़ा’या। इल्मा की मेहन’त रंग लाई और स्कॉकरशिप पाने में कामयाब भी पाई।

ilma afroz ips 2021

इल्मा यूके मेंअपने बाकी ख’र्चो पूरे करने के लिए कभी बच्चों को ट्यू’शन पढ़ा रही थी। कभी छोटे बच्चे की देखभाल करने का काम करती थी।यहां तक कि उन्हीने लोगो के घर के बर्तन भी धोए उन्होंने कभी घ’मंड भी न’ही किया। इसके बाद इलमा एक वो’लेंटियर प्रो’ग्राम में शामिल होने के लिए न्यूयॉर्क भी गई ।

जहाँ पर उनको एक जॉब का अवसर भी मिला।एक इंटरव्यू में इल्मा कहती है कि मुझ पर मेरी शिक्षा पर पहले मेरे देश का हक है, मेरी अम्मी का हक है।अपनो को छोड़कर मैं क्यों किसी और देश में बसूं इल्मा ने यूपीएससी का मन बनाया।

ilma afroz ips news
ilma afroz ips news

इल्मा को भी लगा कि यूपीएससी एक ऐसा क्षेत्र है। इसके बाद इल्मा ने इस तैयारी करने का मन बनाया।इल्मा ने साल 2017 में 217 वीरैंक के साथ 26 साल की उम्र में यूपीएससी की परीक्षा की पास की है ।जबसर्विसचुनने की बारी आई तो उन्होंने आईपीएस चुना।

Leave a Comment