खेल भावना का दिखा अद्भुत नजारा, स्पेन के रेसर ने खुद ना जीतकर केन्या के रेसर को धक्का देकर करवाई विनिंग लाइन क्रॉस

टोक्यो ओलंपिक में ऐसे कई नजारे देखने को मिले है। इसमें चाहे अर्जेंटीना के कोच और खिलाड़ी का प्यार या फिर 13 साल की बच्ची को मिला गोल्ड मेडल ही क्यो न हो। इसी बीच एक खेल ऐसा भी है जिसमे हैरान कर देने वाला नजारा भी देखने को मिला है। जिसे शायद कभी किसी ने देखा ही नही होगा।

स्पेन के इवान फर्नाडीज ने अपनी जीत को दरकिनार करते हुए खेल भावना दिखाई है खुद से आगे चल रहे केन्या के अबेल म्यु ताई को धक्का देकर विनिंग लाइन भी क्रॉस करवाई है।आप भी सोच रहे होंगे कि क्या टोक्यो ओलंपिक के दौरान हुआ है, नहीं नहीं यह वाक़्या साल 2012 के एक क्रॉस रेस इवेंट का है।

ivan fernandez abel mutai

जिसका आयोजन स्पेन में हुआ था। बता दे कि रेस के दौरान केन्या के रेसर म्युताई आगे चल रहे थे और उनके पीछे स्प्रेन के इवान थे। फिनिशिंग लाइन से कुछ मीटर पहले ही अचानक आगे चल रहे म्युताई रुक गए और उन्हें लगा कि फिनिशिंग लाइन आ गई। जिसे देखकर पीछे चल रहे इवान आगे नही निकले

बल्कि उन्होंने चिल्लते हुए केन्याई रेसर को समझाने की कोशिश की है।स्पेनिश भाषा नही समझ आने के चलते हुए केन्याई रेसर जब कुछ नही समझ पाया फिर स्प्रेन के रेसर ने जो किया उसने सबका दिल जीत भी लिया है। इस मौके पर अगर

ivan fernandez abel mutai

स्प्रेनिश रेसर चाहते तो आगे निकल जाते लेकिन उन्होंने आगे निकलने की बजाए केन्या के म्यु ताई को धक्का देकर विनिग लाइन उन्होंने क्रॉस भी करवा दी। उनके इस कदम से हार के भी उन्हें जीता दिया और वो हीरो बन गए।

Leave a Comment