जापान में भी हुआ ना’गरिकता का’नून का वि’रोध, लोग बोले – मु’स्लिमों के

ना’गरि’कता का’नून को लेकर देश के कई राज्यों में वि’रो’ध प्रदर्श’न हो रहा है। इस का’नून को लेकर देश के कई राज्य हिं’सा की च’पेट में भी आए थे । आपको बता दे , इस का’नून के वि’रो’ध में कई बाहरी देशों की यूनीवर्सिटी में भी वि’रो’ध हुआ था। अब खबर जापान से है । जापान में भी इस का’नू’न के खि’लाफ लोग सड़कों पर उत’रे है। एक आधि’कारिक बयान में कहा गया है कि टोक्यो में भारतीय दूता’वास के परिसर के पास न्या’यमूर्ति राधा बिनोद पाल, यासकुनी शाइन की प्रतिमा के सामने सभा हुई।

जो उपरोक्त प्रा’वधानों के उद्दे’श्यों और देय प्र’किर्यो को स्पष्ट रूप से समझने के लिए थी। इस तरह के मु’द्दों को फै’ला’ने ओर न’का”रात्म’क प्रचा’र चलाने के लिए कुछ असा’मा’जिक त’त्वो द्वारा दुरूपयोग किया जा रहा है। जिसने पिछले हफ्ते भारत के कुछ हिस्सों में हिं’स’क वि’रो’ध प्रद’र्शन हुआ है। इस वि’रो’ध की हिं’स’क में करीब 20 लोगो से अ’धिक मौ’त हो चुकी है।

आपको बता दे, CAA और NRC का का’नून सं’सद में पा’रित किया गया है। राष्ट्रपति के साथ एक अ’धिनि’यम बनाया गया है।इस का’नून को लेकर देश की राजधानी समेत कई इलाकों में वि’रो’ध प्रद’र्शन जारी है। इसका वि’रो’ध कई नेताओं और यूनिवर्सिटी के छात्र और छत्राओं ने भी किया हैं। इस का’नून के खि’लाफ़ अमेरिका समेत कई दूसरे देशों ने भी इसका वि’रोध किया हैं।

जापान में रहने वाले भारतीय मूल के लोगो ने सड़को पर उतरकर CAA का वि’रो’ध किया। इस कानून के वि’रोध में देश के कई नेताओं ने जामिया मिलिया जाकर और दिल्ली के शाहीन बाग में विरो’ध किया है। आपको बता दे, दिल्ली के शाहीन बाग में इस वि’रोध को लेकर बाजार और इंडस्ट्री सब ब’न्द है।

Leave a Comment