क’श्मीर और ना’गरि’कता का’नून पर सऊदी अरब बुलाएगा मु’स्लिम देशों की बैठक, भारत से ….

स’ऊदी अरब से एक बड़ी खबर सामने आ रही है । स’ऊदी अरब ने क’श्मी’र मु’द्दे पहले भी बोल चुका है लेकिन उसका ताज़ा बयान ‘ का विषय बना हुआ है। सऊदी अरब ने क’श्मी’र मु’द्दे पर सभी इ’स्ला’मि’क दे’शो के वि’देश मंत्रि’यों के ‘ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्ला’मिक कोऑ’परेशन’ बैठक आयोजित करने जा रहा है। माना जा रहा है कि इस बैठक से इस खाड़ी देशों और भारत के रिश्तों में ख’टास आ सकती है।

Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में म’लेशिया में भी इस तरह के एक इस्ला’मिक शिखर सम्मेलन का आयोजन किया जाना था। लेकिन, स’ऊदी अरब द्वारा पा’किस्तान को म’ना किए जाने के बाद उसने इस सम्मेलन को खुद को बाहर कर लिया था। कई राजनी’तिक जानकारों का मानना है कि रियाद का क’श्मीर मु’द्दे पर बैठक करने का फैसला इस्लामाबाद को अपनी तरफ रखने के लिए एक कदम हैं।

पा’कि’स्तान को लग रहा था कि कश्मी”र मु’द्दे पर उसे किसी भी इ’स्ला’मिक देश का स’मर्थन न’ही मिल रहा था, लेकिन अब इस बैठक को एक समर्थन के रूप में देखा जा रहा है। पा’किस्ता”न को किंगडम द्वारा इस मु’द्दे पर बै”ठक की जानकारी सऊदी अरब के वि”देश मंत्री फैसल बिन अल सऊद के इस सप्ताह इस्ला”माबाद की यात्रा के दौरा”न दिया गया था।

सऊदी के लिए चिं’ता की बात यह थी कि इस सम्मेलन में ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी भी भाग लेने वाले थे, जिसे सऊदी के लिए एक ख’त’रे के रूप में देखा जा रहा था। फिलहाल, ओआईसी बैठक की तारीखों को तय न’ही किया गया है। सऊदी अरब की बैठक आयोजित करने के लिए सहमत होना, रि’याद और नई दिल्ली के रिश्ते में नका’रात्म’क रुप से देखा जा रहा हैं।

आपको बता दे, बीते दिनों मले’शिया में भी ओआईसी की बैठक हुई थी जिसमे 59 मु’स्लिम देशों ने बा’बरी म’स्जि’द और ना’ग’रिकता का’नू’न पर टि’प्प’णी की थी । इन मु’स्लि’म दे’शों के सं’गठन ने कहा था कि वह भा’रत के मु’स्लिमों पर लागू हुए ताज़ा का’नू’न पर नज’र रखें हुए है ।

1 thought on “क’श्मीर और ना’गरि’कता का’नून पर सऊदी अरब बुलाएगा मु’स्लिम देशों की बैठक, भारत से ….”

Leave a Comment