ना’गरिकता का’नून पर बयान के बाद मलेशिया पीएम मो’हम्मद ने उठाया बड़ा कदम, बोले – नौबत आई तो ..

नाग”रिकता का”नून को लेकर देश भर में वि’रोध प्र”दर्शन देखने को मिल रहा है। दूसरे देशों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। कई देशों ने इस का’नून को लेकर वि’रोध भी किया है . आप को बात दे, कि भारत के तमाम आं’तरिक मु’द्दों में दखल की कोशिशों से भारत को ना’राज करने के बाद अब मलेशिया ने भारतीयों के लिए एक ऐलान किया है। बता दे, मलेशिया ने रविवार को भारतीयों को वीजा फ्री एंट्री देने की घोषणा की है।

यानी 2020 से म’लेशिया घूमने के लिए भारतीय पर्यटकों को वीजा की जरूरत नही होगी। भारत के अलावा ची’न के पर्यटकों को भी इसकी छू”ट मिलेगी। आप को बता दे, कि 15 दिनों तक भारतीय बिना वीजा के रह सकते है। मलेशिया घूमने के लिए भारतीयों को अब इलेक्ट्रॉनिक ट्रैवल रजिस्ट्रेशन एंड इन्फॉर्मेशन सिस्टम का इस्तेमाल करना होगा।

म’लेशिया के प्रधा’नमंत्री महातिर मो’हम्मद ने ना’गरिकता का’नून को लेकर अ’फसोस जताया था और कहा था कि यह मु’स्लिमो के लिए भे’दभाव करता है। विदेश मंत्री ने कुआंतन सेंट्रल टर्मिनल पर मीडिया से बातचीत में कहा है कि दोनो देशो के बीच रिश्ते साफ है। हमारे बीच मे कोई भी स’मस्या न’ही है। हमारा पक्ष साफ है कि हम बिना विचारधारा और पृष्टभूमि को आधार बनाए बिना सभी देशो के साथ सम्ब’न्ध स्था’पित करना चाहते है।

हम किसी भी देश के आंत’रिक मा’मलों में हस्त’क्षेप नही करेंगे। लेकिन अगर बात लोकतंत्र , मान’वाधिका’र और का’नून की बात होंगी तो अपनी राय और अपना नजरिया जरूर सामने रखेंगे। आपको बता दे, बीते दिनों मु’स्लिम देशों के संगठन ओआईसी की मीटिंग म’लेशिया में आयोजित हुई थी ।

मलेशिया , तुर्की सहित कई देशों ने भारत के मु’स्लिमो के लिए सँयुक्त बयान जारी किया था । उन्होंने भारत से कहा था कि वह भारतीय मु’स्लिमो पर हो रहे ताज़ा मामले पर नजर रखे हुए है । इन देशों ने बा’बरी म’स्जिद और ना’गरि’कता का’नून को लेकर भी बयान जारी कर कहा था वह इन सभी मा’मलों को देख रहे है ।

Leave a Comment