ना’ग’रि’कता का’नू’न : जा’मिया के एक छात्र की आँ’ख की रो’शनी गई, दो घं’टे पड़े रहे थे लाइ’ब्रेरी, जानिए

ना’ग’रिकता सं’शोधन कानून को लेकर पूरे देशभर में विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहे है। देश के अधिकतर हिस्सों में जगह जगह पर रैलियां और प्रदर्शन हो रहे है। जा’मिया मि’लिया यूनि’वर्सिटी के छात्र छात्राए कैंपस के बाहर ही दि’न रा’त प्र’द’र्श’न कर रहे है। बता दे, रविवार को जा’मिया के स्टूडें’ट्स’ ने इस का’नू’न के वि’रो’ध में जामिया से सं’सद मा’र्च का आ’ह्वा’न किया था। इसके बाद छात्र छात्राओं ने कुछ दुरी तक पै’दल मार्च किया लेकिन छा’त्र नहीं माने।

इसके फलस्वरूप पु’लि’स ने छा’त्रों को पीछे हटाने के लिए आं’सू गै’स के गो’ले छो’ड़े और ला’ठी’च’र्ज किया। आपको बता दे कि इस दौरान की पु’लि’स प्र’द’र्श’न’का’रीयो का पीछे करते हुए जामि’या कैं’पस में घु’स आई। इसके बाद जा’मि’या छा’त्रों के मुताबिक पुलि’स ला’इब्रेरी में भी घु’स आई और उन पर ला’ठी’चार्ज भी किया। इस दौरान जिस वक़्त पु’लि’स ने जा’मि’या की ला’इब्रेरी में ला’ठी’चा’र्ज किया तो वहां बिहार के समस्तीपुर के रहने वाले मिन्हा’जु’द्दीन भी थे। उन्होंने एनबीटी को अपनी दास्तां सुनाई।

रविवार की शाम एलएलएम फाइनल ईयर स्टूडेंट मिन्हाजुद्दीन के लिए ख़ौ’फ़नाक शाम थी। पहले वो एएमयू से पढ़े ,फिर जामिया के स्टूडेंट बने । मि’न्हा’जु’द्दीन के मुताबिक वो लाइब्रेरी में ला’ठी’चा’र्ज का शि’का’र बने। बता दे, उनकी एक आं’ख पर ख’त’र’ना’क ह’मला और श’रीर पर कई चो’ट के निशान भी थे। बता दे, वॉश’रूम में द’र्द में त’ड़’प’ते हुए मि’न्हा’जु’द्दीन का एक वीडियो सोशल मीडि’या पर वा’य’रल’ भी हुआ है। जिसके बाद वो सामने आए और उनके साथ हुई घ’ट’ना को बताया है।

डॉक्टर्स का कहना है कि उनकी एक आं’ख की रोशनी जा चुकी है। मिन्हाजुद्दीन अभी बहुत ही ज्यादा स’दमे में है, भविष्य और उसके आसपास घूमते हुए कई मुश्किल स’वा’ल उनके सामने है। मिन्हाजुद्दीन ने बताया है कि जामिया की सेंट्रल लाइब्रेरी में एमफिल सेक्शन में पढ़ रहा था। साथी भी वहां पर मौजूद थे। उसी दौरान पता चला कि लाइब्रेरी में करीब 20 से 25 पु’लि’सक’र्मी अंदर घु’स चुके है।

हे’ल’मेट पह’ने ला’ठी- डं’डों के साथ आए ये पु’लि’स वाले स्टूडेंटस पर ला”ठि’यां ब’र’सा’ने लगे। मेरे हा’थ पर डंडे लगे। बाद में मेरी आँ’ख पर जोर से एक डंडा लगा। मुझे च’क्कर आने लगे। मैं वॉशरूम की ओर भा’गा। उनकी आंख से खू’न ब’ह रहा था।अगले दिन ही मिन्हाजुद्दीन को ए”म्स में भ’र्ती करवाया गया। डॉ’क्टर ने कहा है कि उनकी एक आं’ख की रोश’नी’ जा चुकी है, दूस’री आं’ख पर भी इसका अ’सर ही सकता है।

आपको बता दे कि रि’श्ते’दा’रों और दो’स्तो की मदद से उनका इ’ला’ज चल रहा है। मिन्हाजुद्दीन की क्लासमेट मुम’ताज क’हती है कि उनकी क्ला’स के एक हो’न’हार और इं’टे’लि’जेंस स्टू’डें’ट मिन्हा’जु”द्दी’न अभी स’द’मे में है। डॉ’क्ट’र्स ने बताया है कि , ला’ठी के अ’टै’क से उनकी आं’ख दो पार्ट में डि’वा’इ’ड हो चुकी है। बाईं आं’ख की देख’ने की दृ’ष्टि जी’रो हो चुकी है। डॉ’क्टर्स कोशिश कर रहे है कि दूसरी आं’ख में इसका इं’फे’क्शन न’ही फैले।

बतादे की बीएड स्टूडेंट म’क’सूद ने उनके लिए एम्बु’लें’स का इं’ते’जाम करवाया। उन्हें पास के अस्प’ता’ल में ले गए। मगर हा’ला’त ब’हुत ख’रा’ब थी। उनको ए’म्स में भ’र्ती कर’वा’या गया। पहले अ’स्प’ता’ल से मु’मताज ने ही पुलिस को 100 नम्बर पर फ़ोन किया। क्योंकि इ’ला’ज न’ही मिल रहा था। वह कहती है कि पु’लि’स आई, ब’स देखती रही। प्रा’इ’वेट ए’म्बु’लें’स कर वो मि’न्हा’जु’द्दीन को ए’म्स लेकर गए। अगले दिन उनका ऑ’प’रे”श’न किया गया।

मुमताज का कहना है कि मि’न्हा’जु’द्दीन ने खुद लिखकर न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी पु’लि’स स्टेश’न में अपनी शि’कायत दी। लेकिन अभी तक पु’लिस ने कोई कद’म न’ही उठाया है। हमे कॉ’पी’ तक नही दी गई है। मिन्हाजुद्दीन के दोस्तो का कहना है कि वो बहुत शांत है, ज्यादा बात न’ही कर सकते है। उनके पैरेंट्स के लिए भी यह बहुत ही बड़ा स’द’मा है कि उनके मे’ह’न’ती बे’टे के साथ इतना बड़ा हा’दसा हुआ है। जबकि उस प्र’द’र्शन का वो हिस्सा नही थे।

Leave a Comment