ममता की जीत के बाद मुसीबत में फंसे भाजपा के मिथुन, पुलिस ने …

भार’तीय जन’ता पा’र्टी के नेता और फ़ि’ल्म इंड’स्ट्री के दिग्ग’ज ने’ता मिथु’न चक्र’वती ने पश्चिम बंगाल विधान’सभा चु’नाव से पहले भाज’पा में शामि’ल होकर चु’नाव प्र’चार के दौरान कई वि’वा’दित ब’यान के साथ भड़’का’ऊ बयान भी दिया है। इस आ’रोप में अब उनकी ल’गातार ही कोलका’ता पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

बता दे कि तृण’मूल कॉं’ग्रेस ने भा’जपानेता मिथुन चक्र’वई के खि’ला’फ मनि’क’लता पुलि’स स्टे’शन में एफ’आईआर भी द’र्ज कर’वाई थी। जिस’के बाद भा’जपाके नेता मि’थुन चक्र’वती ने कोल”काता हाई’कोर्ट में अ’र्जी दा’यर करके उनके खिला’फ का’र्यवही की है। एफआ’ईआर र’द्द करने की भी मां’ग’ की थी।

mithun

पुलि’स था’ने में एफ’आ’ईआर में इस बात का दावा किया गया है कि मिथु’न चक्रवती 7 मार्च को भा’जपा में शामि’ल होने के बाद आयो”जितरैली में उन्होंने कहा था कि मर’बो ए’क’लहने ला’श पो’र्बो शो’शने मतल’ब यह है कि तुम्हे मारूं’गा तो ला’श श्मशा’न में गिरेगी। ऐसे बात कही थी जिस’के बाद से

राज्य में चु’ना’व के बाद हिं’सा देख’ने को मिली है।भाजपा पार्टी में शामिल होने के बाद ही मि’थुन च’क्रवती ने मुख्य’मंत्री मम’ता बन’र्जी और तृणमूल कॉंग्रेस की अध्यक्ष मम’ता बनर्जी के खिला’फ बया’नबा’जी को शुरू कर दिया था।

mithun bjp 2021

मिथु’न चक्र’वती के बी’जेपी को ज्वा’इन करने के बाद तब टीए’मसी ने’ता सौगत राय ने कहा था कि मि’थुन बी’ते ज’माने के स्टार भी रहे है। उन्होंने 4 बार अपनी पा’र्टी को ब’दल भी है। मिथुन मूल रूप से ही नक्सली थे। इसके बाद वो सी’पोएम में गए। फिर टीएम’सी को ज्वाइ’न किया और राज्य’सभा सां’सद बने।

Leave a Comment