दुनिया में सबसे कम उम्र में नोबेल जीतने वाली मलाला यूसुफजई ने रचा इतिहास, UN ने दिया ये बड़ा सम्मान

मलाला यूसुफजई जिनका जन्म 12 जुलाई 1997 को हुआ था। बता दे, मलाला यूसुफजई को बच्चों के अधिकारों की कार्यकर्ता के रूप में जाना जाता है। 13 साल की उम्र में ही वह तहरीक ए तालिबान शासन के अत्याचारों के बारे में बीबीसी के लिए ब्लॉ”गिंग द्वारा स्वात के लोगों में नायिका बन गई। अक्टूबर 2012, मात्र 14 साल की उम्र में अपने उ”दार”वादी प्रयासों के कारण वे आतं”कवा”दियों के हमले का शि’कार भी बनी।

जिससे वो बु’री तरह घाय”ल हो गई। और वह फिर अंतराष्ट्रीय मीडिया की सुर्खियों में आने लगी। आपको बता दे कि संयु’क्त रा’ष्ट्र ने डिकेट इन रिव्यू रिपोर्ट जारी की है। इसमें पाकिस्तान की नोबेल विजेता मलाला यूसुफजई को विश्व की सबसे प्रसिद्ध किशोरी घोषित किया गया है। मलाला लड़कियों की शिक्षा के लिए काम करती है। यूएन ने रिव्यू रिपोर्ट में मलाला को लेकर लिखा है कि” उन पर आ’तं”कियों ने हम”ला किया था।

mlala

इसका असर पूरी दुनिया मे हुआ था और इसकी निं’दा की गई थी। बता दे, मलाला को यह सम्मान इसलिए दिया गया है कि वो हर लड़की को स्कूल जाने का अधिकार दिलाने के लिए और एडवांस प्राथमिकता देने के लिए किए गए कार्य को मानव अधिकार दिवस पर यूनेस्को के पेरिस स्थित मुख्यालय में यह दिया गया है।

जहाँ पर मलाला की प्रशंसा की गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 21 वी सदी की किशो’रावस्था ख’त्म हो चुकी है।” यूएन ने कहा है कि अफ”गानिस्तान में आ”तंक”वाद के खि’ला’फ लड़ाई में पिछले एक दशक में 1 लाख से ज्यादा अ”फगानी लोग मारे गए है।

घा’यल भी हुए है। यूएन ने 18 साल से चल रहे इस खू’नी सं’घर्ष को खत्म किए जाने की अपील की है। 2010 में आया वि”नाश”कारी भू”कंप और 2011 में हुए सी’रिया में शुरू हुआ संघर्ष, पेरिस जलवायु परिवर्तन डील और यूए”न का 2030 एजेंडा जैसी बड़ी खबरें शामिल हैं।

Leave a Comment