मुख्तार अंसारी : अफसर के साथ खेलते थे बैडमिंटन, मनपसंद मछली के लिए जेल में खुदवा दिया था ….

14 घण्टे की कवाय’द के बाद आखिर मुख़्तार अंसारी को भा’री सुर’क्षा के बीच पंजा’ब की रोपड़ जेल से बाँदा जे’ल पहुँचा दिया गया। मु’ख़्तार अंसा’री का एक बार फिर बाँदा जे’ल नया ठिकाना बना है। यूपी की जेल ही कभी mukhtar अंसा’री की पना’हगार हुआ करती थी।

जहाँ से मु’ख्तार अंसारी अपने तमाम कारना’मो का ता’ना बाना बुनता था। जहाँ की चार’दीवारी उसकी मनमौ’जी में बा’धा न’ही है। आजतक की एक रिपोर्ट के अनुसार नवंबर 2005 में बीजेपी विधायक कर्षनन्द राय की गो’लियों से भून’कर ह’त्या कर दी थी। मु’ख्तार अं’सारी उस वक्त यूपी की फते’हगढ़ जेलमे बंद थे।

mukhtar ansari NEWS

वा’रदा’त से एक महीने पहले ही मुख़्तार अंसारी को गाजीपुर जेल से फ’तेहगढ़ भेज गया था। बताया जाता है कि गाजी’पुर जे;ल मुख्तार अंसा’री का घर हुआ करती थी। आजतक की एक रिपोर्ट के अनुसार और उस समय उत्तर प्रदेश पुलिस में आईजी लॉ एंड आर्डर रहे बृजलाल आजतक को बताते हुए कहते है कि मनपसं’द मछली खाने के लिए उसने जे’ल में ताला’ब भी खु’दवा दिया था।

जिले के बड़े बड़े अधिकारी’ भी ‘मु’ख़्तार अं’सारी के साथ बैडमिं’टन खेलने भी आते थे। मु’ख्तार अं’सारी के लिए आगरा की सेंट्र;ल जेल हो, गा’जीपुर जेल हो, लखन’ऊ जेल हो या फिर बाँ’दा जेल हो। यह त’माम जे’ल कभी भी उसके मंसू’बो को रो’क नही पाई है। हाल ही में मुख्तार अंसारी को पंजाब के रो’पड़ जे’ल से बां’दा जे’ल लाया गया है।

mukhtar ansari NEWS

रो’पड़ जेल से मो’हाली को’र्ट तक व्हील’चेयर बैठकर जाने वाले मुख़्तार अंसारी जैसे ही बाँदा जेल पर पहुँचे तो बै’रक के अंदर खुद ही पै’दल ही चल कर आए है।मुख़्ता’र अं’सारी को कोई ग’म्भीर बी’मा’री न’ही है लेकिन आज उनका को;रो’ना की जां’च की जा’एगी

Leave a Comment