हिन्दू परिवार ने दी मुस्लिम दम्पत्ति को बड़ी जिम्मेदारी, मुस्लिमों ने हिन्दू लड़की की शादी का किया पूरा इंतेजाम और …….

आज के आधुनिकता के दौर मे इंसानियत ओर भाईचारा हवाओं मे कही खौता हुआ दिखाई दे रहा है । नैतिकता ओर मुहब्बत आज के इस माँडर्न युग मे गायब सी हो गई है, ऐसी ही इंसा’नियत, हि’न्दु-मु’स्लिम एकता की मिसाल लुधियाना के जिले के माछीवाडा इलाके मे देखने को मिली । जहा पर एक मु’स्लिम परिवार ने हि’न्दु लड’की के वि’वाह मे कन्यादान करके उसके माता-पिता की कमी को पुरा कर दिया ।

दरअसल, पंजाब के लुधियाना जिले के भट्टी इलाके की रहने वाली हिं’दु लडकी पुजा की मंग’नी लोकडाऊन से पहले पास ही के गांव के सुदेश कुमार के साथ तय हुई थी । शादी की तारीख दो जून तय की गई थी । शादी कीमत तारीख करीब आती गई ओर तैयारी, खरीदारी जारी रही । लेकिन लडकी के माता-पिता लोकडाऊन की वजह से उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले मे स्थित अपने परिवार के घर पर फं’से रह गये ।

लड़की के पिता वीरेंदर शर्मा को शादी ओर लडकी की चिं’ता सता’ने लगी, जिसके बाद उन्होने अपने दोस्त साज़िद को फोन कर उसका ख़्याल रखने ओर सुर’क्षा का जिम्मा सौंपा । पुजा इस दौरान उनके साएँ मे रहने लगी, लोकडाऊन बढते-बढ़ते काफी वक्त बीतता गया ओर शादी की तारीख क़रीब आती गयी ।

लोक’डा’ऊन की सी’मा लगा’तार ब’ढ’ने के का’र’ण पिता की चिं’ता भी बढने लगी, लेकिन उन्होंने निर्णय लिया की शादी की तारीख आगें नही बढाएगे । उन्होंने अपने दोस्त साज़िद से फोन कर सारी बात बताई ओर शादी का जिम्मा साज़िद को दिया, साजिद ने भी पुरी ज़िम्मेदारी से शादी करने की बात कही ।

दो जून तक शादी की मुकम्मल तैयारियां साज़िद ने पुरी कर ली, ओर हि’न्दु सं’स्का’रों के मुताबिक अपने दोस्त की लडकी पु’जा की शादी सभी रस्म,कन्या’दान सहित पुर्ण की ओर लडकी को डोली मे उठाकर उसकी विदाई की । न्यूज़ 18 मे बातचीत मे साज़िद ने बताया,कि उनका पुजा से खु’न का रि’श्ता न’हीं है । लेकिन अपने दोस्त की बेटी होने के नाते उन्होंने इं’सानि’यत का फर्ज अदा किया, क्युकी सबसे पहले इं’सानि’यत का ही रिश्ता होता है ।

Leave a Comment