ये है इतिहास बनाने वाले 3 युवा, IAS अंसार शेख, IPS हसन सफीन और …

एक तरफ युवा या फिर युवतियां 21-22 साल की उम्र में अपनी जिंदगी के फैलसे नही ले पाते है । उनके किस सेक्टर में अपना करियर बनानां है और किस सेक्टर में जाना है । वही कुछ युवक इस उम्र में अपना सपनो को पूरा करके इतिहाज़ में नाम दर्ज करा लेते है।

इसी इतिहास रचने वालो में ऐसे ही 3 नाम है । इन तीनो के नाम इतिहास में सबसे कम उम्र में IAS, IPS और Judge बनने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। इन तीनो ने अपनी कॉलेज की पढ़ाई को पूरा किया और मेहनत करके अपनी मंजिलों को हासिल किया है।1.IAS अंसार

ansar ahmed shaikh

अहमद शेख-अंसार महाराष्ट्र के जालना जिले के शेलगाव में रहने वाले है। अंसार जब 4 क्लास में पढ़ाई करते थे तब उनके पिता ऑटो चालक थे। वह मुफलिसी का हवाला देते हुए उनका नाम स्कूल से कटवाने के लिए पहुच गए थे। उनके पिता को अध्यापक ने समझाया। इसके बाद अंसार ने 12 में 91% अंक लाकर सबको हैरान कर दिया था।

अंसार शेख ने साल 2015 में यूपीएससी की परीक्षा में 361 वी रेंक को हासिल किया और IAS बनकर सबका नाम रौशन किया है। 2. IPS हसन सफीन- सफीन गुजरात के बनासकांठा जिले के पालनपुर तहसील के गांव कणो’दर के रहने वाले है ।

ansar ahmed shaikh

सफीन ने अपने गांव के सरकारी स्कूल से 10 तक कि पढ़ाई को पूरा किया। उन्हीने 10 वी 92% हासिल की। 12 के बाद उन्होंने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग से इंजीनियरिंग की डिग्री को हासिल किया। इनके पिता ने इलेक्टिशियन से लेकर अंडे तक के ठेले भी लगाए है।

इतना ही नही हसन ने भी अपने पिता के साथ ठेले पर काम किया करते थे।हसन ने साल 2017 में यूपीएससी परीक्षा को पास किया। उन्होंने 570 वी रेंक हासिल की। हसन स्फीन महज 22 साल की उम्र में IPS बने

mayank pratap singh

है। 3. मयंक प्रताप सिंह-मयंक राजस्थान के रहने वाले है। मयंक ने राजस्थान न्यायिक सेवा परीक्षा को साल 2018 में पास किया । मयंक ने महज 21 साल की उम्र में जज बनकर एक मिसाल को कायम किया है। मयंक ने बिना कोचिंग के यह सब किया है।

Leave a Comment