पिता एक मामूली दुकानदार थे, बेटी ने अभाव में रहकर पढ़ाई किया और आज है IAS

किसी भी इंसान को सफलता जरूरी नही है कि किसी बड़ी चुनोती को पूर्ण करने से मिले बल्कि छोटे छोटे उद्देश्यों के सहारे आगे बढ़ना भी सफलता ही कह लाती है।ऐसे बहुत सारे इंसान है जिन्हें जिंदगी में सुविधाए मिलती है। UPSC जैसे एग्जम क्रैक करने के लिए हमारे देश के

युवा कई वर्षों तक कोशिश भी करते है। आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बताने जा रहे है जिसने अपनी सेल्फ स्टडी के दम पर देश की कठिन एग्जम UPSC को पास किया है। यह परीक्षा उन्होंने बिना किसी कोचिंग ज्वाइन किए पास की और IAS ऑफिसर बनी है। उनके पिता दुकान चलाकर अपनी आजीविका भी चलाते है।

namami bansal ias

बता दे कि नमामि बंसल उत्तराखंड के ऋषिकेश से सम्बंध भी रखती है। उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा एन डीएस मुमनिवाला से पूरी की है। जिसमे उन्होंने 10वी कक्षा में लगभग 93 % बनी और 12 वी कक्षा में 95% अंक आए थे। इतने अच्छे आने के बाद

उन्होंने अपने पिता का भी नाम रोशन किया है। नमामि ने साल 2017 में यूनिवर्सिटी को टॉप किया था। राज्यपाल के द्वारा उनको सवर्ण पदक भी मिला है। जिसके बाद वह यूपीएससी की तैयारी में भी लग गए है। आपको बता दे कि नमामि बंसल के पिता राज

कुमार बंसल है जो एक बर्तन की दुकान भी चलाते है। उनके पिता को कब इस बारे में पता चला कि उनकी बेटी एक अधिकारी बन गई है तो उनके पास खुशी का ठिकाना ही नही रहा।

Leave a Comment