गोल्ड मेडल जीतने के बाद कोच नसीम अहमद से मिलने पहुंचे नीरज चौपड़ा, लिया आशीर्वाद और नीरज ने कही दिल छू लेने वाली बात

ओलंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतकर भारत के लिए इतिहाज़ रचने वाले नीरज चोपड़ा ने पूरे देश को गोरणवित भी किया है। टोक्यो ओलंपिक में उनके भाले ने 87.58 मीटर की दूरी को तय करते हुए भारत देश का कई सालों के इंतजार को खत्म भी किया है।

कोच नसीम अहमद से 6 साल की ट्रेनिग लेने वाले नीरज ने आज जितनी भी कामयाबी को हासिल किया है। उसका श्रेय उनके सबसे अच्छे गुरु को भी जाता है। जिनकी ट्रेनिग में इतना ज्यादा जादू था कि नीरज को आज इतने बड़े मुकाम तक भी पहुँचा दिया है। नीरज चोपड़ा ने पंजकुला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में एथलीट्स कोच

neeraj chopra teacher naseem ahmad

नसीम अहमदसे छह साल तक लगातार कोचिंग भी की है। नीरजचोपड़ा के कोच नसीम अहंमद ने बताया है कि इसी साल मार्च के महीने में नीरज चोपड़ा ने पटियाला में आयोजित प्रदर्शन भी किया था। नसीम अहमद ने बताया है कि आज नीरज बहुत बड़े एथलीट है इसके बावजूद भी वो आज मेरे सामने

कुर्सी ओर नही बैठते है। वो ज्यादा बात भी नही करते है। जब भी कोई मैच खेलने के लिए जाते है तो अपने कोच से आशीर्वाद लेने के लिए जरूर जाते है। मैं नीरज चोपड़ा का हर मैच भी देखता हूं। नसीम अहमद कोच ने आगे बताया है कि मैं बहुत ही ज्यादा

neeraj chopra teacher naseem ahmad

खुशनसीब हूं कि मुझे नीरज जैसा कोई खिलाड़ी भी मिला है। मैं नीरज जैसा कोई एथलीट देश को दे पाया हूं। बता दे कि नीरज चोपड़ा ने 13 साल की उम्र में 55 मीटर दूर भला भी फेका था।

Leave a Comment