यूरोप की पहली एको फ्रेंडली म’स्जिद में पेड्रो कार्वालोहो ने अपनाया इ’स्ला’म ध’र्म,बोले –

देश मे सभी धर्म के लोग रहते है। एक समय पहले तक देश सेक्यु’लर कहलाता था लेकिन अब देश की छवि लगातार बदल’ती हुई जा रही है । इस देश मे हि’न्दू, मुस्लि’म, सि’ख ,ई”साई, पारसी धर्म के लोग एक समय तक मिल’जुलकर रहते थे लेकिन मौ’जूदा दौर में ऐसा सं’भव होता नही दिख रहा है । आपको बता दे, मु’स्लि’म ध’र्म की खा’सियतों की वज’ह से कई देशों में ई’साई या दूसरे ध’र्म को मानने वाले लोग इ’स्ला’म ध’र्म को अपनाते है।

आज हम आपको ऐसी ही ख’बर बताने जा रहे है। जो सिर्फ इ’स्ला’म कुबूल करने वाले कि है। ऐसे तो आपने सुना भी होगा। ब्रिटिश के रहने वाले मशहूर गायक गीतकार यूसुफ ने ke मीडि या सलाहकार पे’ड्रो कर’वाल्हो ने इ’स्लाम को अ’पनाया है। इनके इ’स्लाम कु’बूल करने की बाद पूरी दु’निया मे इनकी चर्चे हो रहे है।

मीडिया की खबरों के मुताबिक युसूफ के मीडिया सलाहकार ने तु’र्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब ए’र्दोगन के द्वारा म’स्जि’द के उ’द्घाटन करने के बाद इस म’स्जिद के इ”माम अली तोस से बात की थी। जिसके बाद ही कयास लगाए जा रहे थे कि वह जल्द ही इस्ला’म धर्म’ अपना सकते है। बता दे. के’म्ब्रिज सेंट्र’ल म”स्जि’द जो कि यूरोप की पहली इको फ्रें’डली म’स्जिद भी है, इसका उद्घाटन रजब तय्यब ए’र्दोगन ने किया था। उनके साथ उनकी पत्नी अ’मीना भी मौजूद थी।

इन्होंने इंग्लैंड की नई कै’म्ब्रिज सें’ट्रल म’स्जि’द में इ’स्ला’म कु’बू’ल किया है। कार्र ‘वा हक ने कहा कि इमा’म तो’स ने मुझसे कहा कि अगर आप इ’स्ला’म को लेलर सही समय त’लाश कर रहे हो तो स’ही समय अभी है। हम ऐसी दु’निया मे रहते है, जहाँ हमारे पास दूसरे से’कंड के लिए कोई गारं’टी न’ही है, इसलिए यही समय अच्छा है।

जिसके बाद यूसुफ ने इमाम से बात की मुझे इस्लाम को कुबूल करने के लिए कैसे करना है। क्या करना है? इसके बाद इमाम की सहायता से यू;सुफ के मिडिया सला’हकार ने इ’स्लाम कु’बूल किया। जिसके चर्चे सोशल मीडिया पर हो रहे है। सब लोग इनको बधाई दे रहे है । और जमकर तारीफ भी कर रहे है ।

Leave a Comment