मुख़्तार अंसारी: पूर्वांचल का वो लड़का, जिसने ब्रिजेश सिंह को ललकारा और यूपी का डॉन बन गया

मऊ से पांच बार विधायक रहे मुख्तार अंसारी को हर कोई जनता होगा जिनका नाम आज भी पूर्वाचल में लोगो के ख़ौ’फ़’ज़’दा करने के लिए काफी है।मुख्तार आ सर के बचपन मे शायद परिवारवालों ने यही सोच होगा कि पोता भी उनके दादा की तरह दुनीया भर में नाम कमाएगा

उनके स्व’तंत्र’ता सं’ग्रा’म दौर के कांग्रेस और मु’स्लिम लीग के अध्यक्ष और जा मिया मिलिया इस्लामिया के चान्सलर रहे।इस बारे में कोई नही जनता था कि एक दिन यही यूपी का लड़का पूर्वाचल के बड़े डॉन बृजेश सिंह को ललकारेंगे। वह उसकी जगह लेकर यूपी का डॉन बनजाएगा।

1970 के दशकि में देश पूरी तरह से बदल रहा है।देश मे नई नई फैक्ट्रियां लगाई जा रही थी। नए नए कॉलेज बयँ रहे थे। 90 के दशकि आतें आते मुख्तार अंसारी पूर्वाचल में जु’र्म की दुनिया का बड़ा नाम बन चुका था। वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर और मऊ में तो उसके नाम से ही लोग कां’पते थे।

कहा जाता है कि साल 2002 में ब्रजेश सिंह ने घा’ट लगाक’र अंसा’री के का’फि’ले पर ह’म’ला किया। जिसके बाद दोनों तरफ से ता’बड़’तोड़ गो’लि’यां चली और मुख्तार के तीन आद’मी मा’रे गए। इस शट आ’उट में ब्रजेश सिंह भी बुरी तरह आ’दमी मा’रे गए।

एक तरफ मऊ गाज़ीपुर इ’लाके में चुना’वो में अपना दब’द’बा बनाए रखने के लिए अंसा’री मु’स्लिम वोट बैंक के स’हारा लेते थे वही उनके वि’रो’धी हि’न्दू वो’टों का म’जबूत करबे की को’शिश करने लगे।

Leave a Comment