ऐन वक्त पर असम में इस दांव से कांग्रेस ने पलट दिया पूरी तरह खेल ? बीजेपी के कोर वोटर में सेंध क …

असम विधानसभा की 126 सीटो के लिए यहां तीन चरणों मे मत’दान सम्पन्न हुआ है। पश्चिम बंगा’ल और अस’म के चुना’व की चर्चा इस बार हिं’दी बेल्ट में कुछ ज्या’दा ही है। इस बार असम के चु’नाव में का’टे की ल’ड़ा’ई भी दे’खी गई है। कांग्रे’स गठ’बंधन औऱ भाजपा के बीच ये ल’ड़ाई सा’ख की भी है

औऱ ऐसे में असम विधानसभा चुनाव के Bमैदान में राज’स्थान की राज’नी’ति भी छा’ई हुई है। राजस्थान के कई नेताओं ने अ’सम में प्रचार भी किया है।असम के चुनाव में राजस्थान के नेता बीजे’पी और कांग्रे’स ग’ठबं’धन के लिए अपनी राजनी’तिक रणनीति की अहम भू’मि’का पे’श करते हुए नज’र आ रहे है।

rajasthan congress

यही वजह है कि अस’म के चुनाव राजस्थानी नेता’ओ के आ’स पास हो रहा है। असम प्रभारी कांग्रेस की चुनावी बागडोर AIC सीसी के महास’चिव भवर जिते’न्द्रसिंह ने थम रखी है।

इसके अलावा दुसरी तरफ गठ’बंधन के उम्मीदवारों के समर्थन में मु’ख्यमंत्री अशो’क गह’लोत, पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा और वरिष्ठ मंत्री बीड़ी कल्ला ने अझम के दो दिवसीय दौरा भी किया था। इसके साथ ही प्रवा’सी राजस्था’नियों को आ’कर्षित करने की कोशिश भी की है।

rajasthan congress

बता दे कि असम मेंरहने वाले राज’स्थनी मूल के लोगो को बीजे’पी का जना’धार भी माना जाता है। बात अगर बी’जे’पी की करे तो उसकी तरफ से रा’जस्थन का कोई बड़ा नेता nahiआया है। असम में अभी भी कई प्र’वासी यहां प्रचार अभि’यान में जुट रहे है।

Leave a Comment