अपने भाई को हराकर दिल्ली पर राज करने वाली पहली मुस्लिम महिला शासक के बारे में जानिए

भारत मे सदियों पहले ही राजाओ का ही शासन होता रहा है। सदियों पहले हमारे देश मे राजा ही सल्तनत संभाला करते थे, किसी राजा की पत्नी राजगद्दी पद संभाला हुआ ऐसा बहुत की कम बार होता हुआ दिखाई देता है। लेकिन आज हम इतिहास की सबसे प्रमुख घ’ट’नाओ में से एक एक घ’टना आपको जानकारी देने जा रहे। दरअसल, भारत में कुछ ऐसी भी औरते रही है जिन्होंने भारत पर राज भी किया था। उनमें से एक है रजिया सुल्ताना। इनका नाम हमेशा से ही गर्व से लिया जाता हैं।

रजिया सुल्तान भारत की पहली महिला मुस्लिम शासक थी। इनको रजिया सुल्तान के नाम से जाना जाता हैं। यह मुग़ल शासक शम्सुद्दीन इल्तुतमिश की बेटी थीं। इनका जन्म 1205 में बदायूं में हुआ था। इनका इं’ते’क़ाल 14 अक्टूबर 1240, को दिल्ली में हुआ था। इनके अंदर एक कुशल शासक के सभी गुण थे। इनके पिता ने अपने उत्तराधिकारी के रूप में रजिया को चुना था। दरअसल इस मामले को लेकर कई तरह के म’त’भे’द भी रहे।

रजिया को अपने भाई से गद्दी पर बैठने के लिए लड़ा’ई भी करनी पड़ी लेकिन इन सब में दिल्ली की जनता ने उनका भरपूर सहयोग दिया। इन्होंने अपने ही सगे भाई को हराया था। इनके पिता की मृ’त्यु’ होने के बाद इनके भाई रुकुद्दीन फिरोज ने सिंहासन पर क’ब्जा कर लिया था। सन 1236 में रजिया सुल्ताना ने अपने भाई को ह’राने के लिए दिल्ली के लोगो ने इनका समर्थन किया। इन्होंने अपने भाई को हराकर दिल्ली सिंहासन की बागडोर को संभाला।

रजिया सुल्तान ने अपने शासनकाल में अपने क्षेत्र में पूर्ण कानून और व्यवस्था की स्थापना की थी। उन्होंने सड़को का निर्माण, कुओं की खुदाई और स्कूलों और पुस्तकालय का निर्माण करके सुधार किया था। इन्होंने कठोर शासन करने के लिए, अपने कपड़े और गहने त्या’ग दिए और म’र्दा’ना पहनावे को अपना लिया। फिर चाहें वह उनका दरबार हो या फिर यु’द्ध का मैदान।

सन 1239 में जब वह लाहौर के तुर्की गवर्नर द्वारा वि’द्रो’ह को रोकने के लिए कोशिश कर थी तो तुर्की के रईसों ने दिल्ली में उनकी अनुस्पतिथि का फायदा उठाया और उसे राज गद्दी से उतारकर उनके भाई बहराम को दिल्ली का शासन बनाया। रजिया ने सिंहासन प्राप्त करने के लिए भटिंडा के सेनापति, मलिक अल्तुनिया से शादी कर ली। अपने पति के साथ दिल्ली पर चढ़ाई करने के लिए आगे बढ़ी।

किन इनके साथ बहुत ही बु’रा हुआ था। सन 1240 को बहराम ने रजिया और अल्तुनिया को धोखे से ह’त्या कर दी थी। आपको बता दे, भारत की पहली महिला शासक रजिया सुल्तान की मज़ार को लेकर इतिहासकारों में कई मत है लेकिन सबसे ठोस प्रमाण राजस्थान के टोंक में मिलते है। टोंक के पुराने क’ब्रि’स्तान में उनका बड़ा सा मज़ार है जिसपर लिखा है सुल्ताने हिन्द रजिया।

Leave a Comment