चावल खाते हैं तो याद रखें हुजूर(स.अ.व.) का जरुरी हुक्म… बढ़ेगी बरकत

हमारे देश में बड़ी तादा’त में चा’वल खा’ने के शौकीन है। आज हम आ’पको इ’स्ला’म के नज’रिये से इस बारे में बताते है। हमारे न’बी करी’म स’ल्लाहु’अलैहि वस्स’लम ने इस बारे में ताली’म दी है। उन्होंने फ’रमाया है कि अगर आप बहुत परे’शा’न है। अपने घरों में या फिर म’लियत को लेकर तो

खाने में चा’वल का इ’स्तेमाल जरूर कीजिए। हमारर नबी ने चावल की नेअमतों के बारे में ईर’शाद फरमाया है कि एक बार एक शख्स हुजूर की बारगाह में तश’रीफ़ लाए औरअर्ज किया कि या र’सूल’ल्लाह मैं बहुत ज्यादा गरी’ब हूं। मेरे रि’ज्क में ब’रकत नही होती है मुझे कोई ऐसा वजी’फा

बताए कि जिससे मेरे कारो’बार में बरक’त हो। इस बात को सु’नकर अ’ल्ला’ह के रसूल ने फरमा’या की तुम चावल कोखया करो इससे तुम्हारे बरकत में कमी नही होगी और तंगी दूर हो जाएगी। इसके बाद दूसरा श’ख्स हुजू’र की बा’रगाह में हाजि’र हुआ कहने लगा कि मैं बहुत अमीर हूं। मेरे पास बहुत माल है। जिससे मुझे

सम्भल नही जा रहा है। उन्होंने कहा कि या रसूल’ल्लाह मुझे ऐसी वजीफा बताए कि मेरी परेशानी दूर हो जाए। तुम चाव’ल खाया करो यह सुनकर वह शख्स चला गया।यह सब माजरा सहाबी देख रहे थे इसकिए’ बाद उन्होंने हमारे नबी से अर्ज किया ए लोगो अ’ल्ला’ह ने चावल में बहुत बरकत दी है।

जो शख्स गरीब था वो चा’वल चुन चुन कर खाएगा इससे उसके बरकत होगी और जो शख्स अमीर है वो आ’धा खाए’गा और आ’धा गि’रा देगा। उसमे जो बरकत वाला चावल का दाना होगा वह उसके पे’ट मे न’ही जाएगा। इससे ही अ’ल्ला;ह उसके रि’ज्क में कमो हो जाए’गी।

Leave a Comment