दुनियाभर में मशहूर RJ साइमा ने पढ़ी ‘लब पे आती है दुआ’, यूजर्स बोले – प्रार्थना बदलने से भगवान नहीं बदलते, ख़ु’दा एक …

क्या आपने रेडियो मिर्ची के बारे में सुना है?क्या सोच रहे हो…जो सोच रहे हो वो सही है । जी हां, रेडियो मिर्ची भारत का एक लोकप्रिय गैर सरकारी एफ एम रेडियो चैनल है। रेडियो जगत की मशहूर और बेहतरीन सिंगर अपनी आवाज के लिए जानी मानी वाली शख्सियत आर जे सायमा जिनकी पूरी दुनिया दीवानी बनी हुई है। सायरा इन दिनों सुर्खिया बतौर रही है । सायरा अपनी आवाज़ से तो सुर्खिया बटोरती ही है ।

लेकिन आज वो यूपी के उस मु:द्दे को लेकर सुर्खियों में आई जिस वजह से एक स्कूल के प्रिंसिपल को प्रेयर की वजह से स:सपें:ड कर दिया गया था । जी हा, 1905 में अल्लामा इक़बाल का देश के लिए लिखा गया गीत लब पे आती है दुआ पढ़कर सायरा ने सुर्खिया बटौरी है । सायमा हिंदुस्तान में 14 साल से रेडियो मिर्ची पर” पुरानी जीन्स” के नाम से अपना कार्यक्रम होस्ट करती है। यह कई तरह के सांग भी गाती है।

इनकी एक प्रार्थना सोशल मीडिया पर वा:यर:ल हुई है। जिसको इकबाल ने लिखा था। इकबाल ने कई तरह के कौमी एकता गीत लिखे है। जिनमे से “लब पे आती है दुआ भी है।” जिसको की सायमा ने गया है। उनका कहना है कि इनको ये गीत अपनी अम्मी से सीखा है। उनका कहना है कि मुझे किसी से गीत गाने के लिए किसी की अ:नुमति लेने की जरूरत नही है ।

सायमा ने कहा कि भगवान एक है। उनका कहना है कि आप भी हिन्दू, उर्दू, पंजाबी आदि भाषओं में प्राथना गा सकते है। उनका कहना है कि मैं यह प्राथना हजार बार गाऊँगी। सायमा के इस वीडियो पर लोगो की प्र:ति:क्रिया इसलिए बढ़ रही है क्योंकि हाल ही में यूपी के एक स्कूल में प्रथमिक विद्यालय में हेडमास्टर को इसलिए स;स्पें-ड कर दिया।

क्योंकि उसने बच्चों से इकबाल द्वारा प्रा;र्थना पढ़वा ली थी। इसलिए यह गीत अभी चर्चे में है। सायमा के पोस्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए नितिन एमके लिखते है कि आप हमेशा से शानदार हो प्राथना बदलने से भग:वान नही बदलते, खु:दा एक श;क्ति में है, किसी प्र:तिमा में नही।

Leave a Comment