सऊदी अरब सरकार ने दिया महिलाओं को ये ख़ास तोहफ़ा, अब महिलाएँ होगी सबसे ता’कतवर और ..

कई न्यू’ज़ ए’जें’सियों को मानना है कि सऊदी अरब अब तेजी के साथ मिशन 2030 में आगे जा रहा है । इस देश में महि’लाओं की दूसरे देशों जैसे यूरोप, एशिया के मुल्कों के मुकाबले पा’बं’दि’यों में ढील दी है । यब बाते अब बीते जमाने की बात हो रही है। जिसके चलते सऊदी की कुछ महि’लाए भी सरकार का खु’ले रूप से सम’र्थन कर रही है। इसके अलावा देश वि’देश से भी स’ऊदी अरब सरकार को बधा’इयां मिल रही है। यह वज़ह सऊदी के मिशन 2030 को लेकर भी है और सऊदी में मिल रही लगातार महिला’ओं की छू’ट भी बताई जा रही है ।

कई सऊदी जानकारों का मानना है कि सऊदी अरब अब यूरोप के मुल्कों की तरह आ’ज़ाद होना चाहता है । वह सभी सुविधाओं को धीरे ‘धीरे ला’गू भी कर रहा है जैसे बैंड प्रोग्रा’म, डि’स्को ,ना’इट क्ल’ब ,सि’निमा । सऊदी अर’ब में म’हिलाओं के लिए अब बहुत हीं खु’शी के दिन आ रहे है, ऐसा खुद को आ’ज़ाद बताने वाले लोग बता रहे है । स’ऊदी ने बीते सालों के बदलाव खास तौर पर महिला’ओं को लेकर किए गए है।

इन सब मे जो सबसे बड़ा बदलाव माना जा रहा है। उसके अंतर्गत सऊ’दी अरब में महिला’ओं को सश’क्त ब’लों में से’वाएं देने की अ’नुमति मिल रही है। यही वजह है कि सऊ’दी अरब के वि’देश मंत्रालय ने king सलमा’न के इस फैसले को ऐतिहासिक बदलाव बताया है। उन्होंने कहा कि अब कोई ‘भी म’हिला सश’क्त’ से’ना में अपनी से’वा दे सकती है। इस फैसले से कुछ काफी हद्द तक मिशन 2030 के विकास के मॉ’डल को आगे बढ़ाया जा रहा है ।

इससे पहले ही किंग सलमान ने महि’लाओं के वा’हन चलाने से बै’न को हटा’ दिया है। उन्होंने महि’लाओं को वा’हन च’लाने की अनुम’ति भी दे दी है। सऊदी में अब महिलाए अकेले ही विदेश’ यात्रा, वि’वाह पंजी’कर’ण जैसे कई तरह के अधि’कारों का ला’भ भी उठा सकती है। इसके अलावा महिला बि’ना शौ’हर के किसी भी दे’श मे जा सकती है । आपको बता दे, सऊदी अरब में भा’रत के पीए’म वि’देशी यात्रा पर है ।

दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते भी हुए है । देश के पी’एम ने सऊदी की सबसे बड़ी कं’पनी और दुनिया की सबसे अधिक कमाई करने वाली कंपनी सऊदी अरामको से कुछ डील भी सामने आई है । बता दे, उससे पहले सऊदी अरब जाने के लिए पा’क ने देश के पी’एम के लिए अपना एयर’बेस खोलने से मना कर दिया था । देश के सऊ’दी का यह दौरा काफी है और सऊदी मिशन 2030 के लिए भार’त के योगदान की खब’रें भी आ रही है।

Leave a Comment