UAE के बाद सऊदी अरब भी करेगा इसराईल से दोस्ती ? सऊदी ने दिया जवाब, कहा- फिलीस्तीनीयों का जब तक ….

यूए’ई और ‘इज”रा’इल के बीच हुए समझौते को लेकर सऊदी अरब ने चुप्पी साध रखी थी । लेकिन सऊदी ने UAE मामले में ताजा बयान दिया । सऊदी अरब ने इस बात को पूरी तरह साफ कर दिया है कि यूएई और इजरा’इल के बीच हुए समझौते में स’ऊदी अपने रिश्ते को कायम नही कर सकेगा।

सऊदी अरब ने कहा है कि जब तक इज’रा’इल फिलि’स्तिनी’यो के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हुए शान्तi सम’झौते पर हस्ता’क्षर नही करेगा जब तक वह अपने रिश्ते कायम नही करेगा।पिछके सप्ताह ही इजराइल के साथ यूएई तीसरा अरब देश बन गया है।

saudi uae

इससे पहले अरब के देशो में जॉर्डन और मिस्र ने इ’जरा’यल के साथ अपने रिश्ते बना चुके है। यू’एई और इज’राइ’ल ke बीच हुए समझौते में सबसे अहम भूमिका अमेरिका रास्ट्रप’ति डो’नाल्ड ट्र’म्प ने भी निभाई है।

सऊदी अरब के विदेश मंत्री ने प्रिंस फसल बिन ने फि’लि’स्ति’नी के मुद्दे के स’माधा’न ना निकलने तक ऐसी किसी भी सम्भ’वना से इ’न’का’र कर दिया था क्योंकि सऊदी अरब ने जब से कोई प्रतिक्रिया नही की है।

saudi uae

प्रिंस फैसल सऊदी विदेश मंत्री ने बीते दिनों ही कहा है कि इज’राइ’ल के साथ रिश्ते बनाने की पहली शर्त यह है कि अंतरा’ष्ट्रीय समझौते के अनुसार ही फि’लिस्ति’नी लोगो के साथ शां’ति कायम हो।

अगर ऐस हो जाता है कि यह सब चीजें सम्भव होगी । बता दे कि स’ऊदी अरब के इ’जराइ’ल को लेकर पहले भी यही रुख रहा है।इस मुद्दे पर तु’र्की ओर पाक ने एक होकर बड़ा कदम उठाने की भी घोषणा की है। हमास ने इस समझिते कि कड़ी निं’दा की है।

Leave a Comment