8 महीने बाद खुला पैगम्बर मोहम्मद (स.अ. व.) का रोज-ए मुबारक तो जालियाँ पकड़कर रोने लगे जायरीन, देखिए भावुक तस्वीरें

कोरो’ना महा’मारी बीते 8 महीने से दुनिया की रफ्तार एकदम से रोक दी थी लेकिन अब धीरे धीरे गाड़ी पटरी पर आने लगी है । अधिकतर देशो में को’रोना कं’ट्रोल से बाहर हो गया तो वहां पर इमर’जें’सी लगानी पड़ी तो कई जगहों पर पूरी तरह से सम्पूर्ण लॉक डाउन कर करो’ना को रोकने के लिए भर’पूर प्रयास किए गए । इस्लाम धर्म के 5 पिल्लरों में से हज है ।

हज करने के लिए पूरी दुनिया के मुस्लि’म सऊ’दी अरब के पवित्र शहरों मक्का और मदीना में जाते है और हज का अरकान पूरे करते है । कोरो’ना काल मे 2020 में हज करने की अनुमति बहुत ही लिमिट संख्या में दी गई थी । हज करने वालो की वो ही थे जो सऊदी में थे या प्रवासी जो सऊदी में रह रहे थे।

saudi news

हज की अदायगी की रौनक पिछले सालों के मुकाबले बहुत फीकी रही । इतिहास में ये पहला मौका रहा हो कि इतनी बड़ी आबादी किसी बीमारी की वजह से ह’ज पर नही जा सकी । सऊदी हुकूमत ने ह’ज के बाद सऊदी के नागरिकों को उमराह करने की अनुमति दे दी । उ’मराह में पहले चरण में सऊदी के 25 फीसद नाग’रिकों को अनुमति दी गई और इसका पूरा प्रोसेस ऑनलाइन ही किया गया ।

हाल ही में ग’ल्फ न्यूज़ में छपी रिपोर्ट के अनुसार 75 फी’सद सऊ’दी ना’गरिक उमराह करने की अनुमति दी जाएगी ।बता दे, 8 महीने बाद मदीने शरीफ की मस्जिद अल रावदा’ह अल श’रीफा में एक बार फिर से इबादत के लिए खोल दिया गया । 8 महीने बाद इस मस्जि’द में रौ’nकें फिर से लौट आई। वही दूसरी ओर रबी उल अव्वल के पवित्र माह में बाब अल सलाम खुलने पर कई भा’वुक कर देने वाली तस्वीर सामने आई ।

saudi news

प्यारे आका सल्ला’हु ‘अलै’हि व’सल्लम के रोजए मुबारक की सुनह’री जालि’यों को पकड़कर जायरीन फु’ट फु’ट कर रो’ने लगे । वाकई ये नज़ारा भा’वुक कर देने वाला रहा होगा, तस्वीर देश आप भी भावु’क हो सकते है इसमे कोई दो राय नही ।

Leave a Comment