गाजा बंदरगाह पहुंचे कई देशों के बच्चों ने पूरी दुनिया से कहा- फिलिस्तीन को आजाद करो और …

बीते महीनों ही इ’ज’रा’य’ल और फि’लि’स्तीन में काफी ज्यादा संघ’र्ष भी हुआ है। जिसे लेकर दोनों प’क्षो की और से कई लोग श’ही’द भी हुए है। ‘इ’जरा’य’ल और फि’लि’स्ती’न के बीच बाद में संघ’र्ष वि’रा’म’ भी हो गया था।हाल ही में फि’लि’स्तीन और गा’जा में बच्चों के एक समूह ने पूरी

दुनिया में इस बात का आहा’न किया है कि फि’लि’स्तीन के लोगो को ब’चा’या भी जाए। इन ब’च्चों का समूह बीते दिनों ही गा’जा पहुँचा था। इस समूह ने गा’जा बंदर’गाह’ पर इ’कठ्ठा’ होकर, अपने सप’नों’ और का’मयाब उ’जागर करते हुए पत्र भी लिखा है। उन्होंने इन पत्रों को

save gaza children

बो’तलों में रखकर इस उम्मीद में फें’क दिया है कि वो दुनिया मे पहुँच गए है।इन ब’च्चों ने पूरे विश्व से आहान किया है कि विश्व एक एनक्लेव पर लगाई गई लगभग 15 साल पुरानी घे’रा’व’न्दी को ह’टा’ने और एक अच्छा जीवन स्तर का अधिका’र प्रदान करने के लिएआगे भी आए है।

उन्होंने कहा है कि इ’ज’राय’ल द्वारा ब’च्चो को नि’शाना’ भीबं’द करना चाहते है ताकि वो फि’लि’स्तीन तक बुनिया’दी अधि’कार भी पहुच गए है।बता दे कि गा’जा में पहुचे इन ब’च्चों के समूह में फ्रांस, इराक ,मो’रक्को और स्पेन सहित कई देशों ले झं’डे भी लहराए है।इसके साथ ही उन बच्चों ने गुब्बारों पर

save gaza children

फि’लि’स्तीनी’की आ’ज़ा’दी की मां’ग का पैगा’म लिखकर भी उन्हें हवा में उड़ा दिया था। जान’का’री के अनुसार बता दे कि बीते महीने फि’लिस्ती’न और ‘इज’रा-‘यल के बीच हुए संघ’र्ष में 262 फि’लि’स्तीन भी मा’रे गए है। इनमें बड़ी संख्या बच्चो, महिलाओं और बुजीर्गो भी थे।

Leave a Comment