भारत की बेटी “सूफिया खान” देश में शांति-भाईचारे का संदेश देने 87 दिनों में 4 हजार किमी दौड़ी, बनाया रिकाॅर्ड

देश मे अमन का पैगाम देने वाली ओर अपने फिट’नेस के लिए दौड़ने के जज्बे के परचम को एक मुस्लि’म समुदाय से ताल्लु’क रखने वाली और राजस्थान से ताल्लुल रखनेवालो लड़की ने इसे आम से खास बना दिया है। उन्हें इस लाइ’न में खड़ा किया गया है जहां ओर बरा’बरी की मिसा’ल का’यम की जाती है। जहाँ पर म’हिला और पु’रुष को बराबरी का हक है।

राजस्थान के अजमेर जिले के सूफिया ने 87 दिनों में4 हजार किलो’मीटर की दौ’ड़ पूरी करके गिनी’ज रि’कॉर्ड अपने नाम करवाया है। वो न तो थकी है और न ही रुकी है। 33 साल की सूफिया ने कहा है कि अपनी बात को लोगो तक पहचाने के लिए सबसे बेहतर जरिया है रनिंग करने का।सूफिया के अपने पिता का साया जब उठ गया जब सूफि’या महज 16 साल की उम्र में थी।

sufia khan news

मा ने पर’वरिश की और अपनी पढ़ाई पूरी होने के बाद ही सूफिया ने दिल्ली में एविएश’न इंड’स्ट्री में बतौर जॉब शुरू कर दी। खुद को फिट बनाने के लिए दौ’ड़ लगानी शुरू की और यही उनका जुनून बन गया। इस जुनू’न को बरकरार रखने के लिए सूफिया ने 10साल पुरानी नो’करी भी दांव पर लगा दी। दैनिक भास्कर से बता करते हुए बताया कि दिन की शुरुआत सुबह 4 बजे से होती है।

https://twitter.com/SumitSaraswatSP/status/1164761569160380416

सूफिया का लक्ष्य 10 शहरो में 100 दिन के अंदर होकर आना था लेकिन सूफिया महज ही 87 दिन में अपना मकम को हासी’ल कर लिया।उन्होंने बताया कि श्रीनगर काफी ठंडा था तो वही पंजाब और दक्षिण के शह’रो में काफी गर्मी थी। इसलिए डिहाइ’ड्रेशन से जुझना पड़ा। कुछ शहरो में तो इतनी ज्यादा धू’ल मि’ट्टी थी कि इंफे’क्शन भी हो गया।

sufia khan news

4 दिन तक सूफि’या जालं’धर में भर्ती भी रही । इस दौरान उनकी कई स्थानीय लोगो ने भी मदद की। सूफिया ने पहले भी 16 दिन में 720 किलोमीटर दौड़कर गोल्ड’न ट्राइ’एंगल पूरा किया । यह बात तीन साल पुरानी है। जब मैने रनिंग इवेंट में हिस्सा लेना शुरू किया ।

फिटनेस के लिए दौड़ना मेरा फैशन बन गया। इसके अलावा 2018 ग्रेट इंडि’यन ट्राइ’एंगल के 720 किमी सफर महज 16 दिनों में पूरा करके रिकॉ’र्ड बनाया। यह उनकी पहली का’मयाबी थी जब इनका नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है।

Leave a Comment