Tokyo Olympics: लाखों लोगों की जिंदगी बचाने वाले शूटर जावेद ने गोल्ड पर लगाया निशाना, बने ईरान के पहले खिलाड़ी

पूरी दुनिया भी को’रो’ना का’ल से अ’छुती नही रही है। कोरोना कि वजह से कई लोगो की जा’न भी गई है तो कुछ लोगों ने थोड़े वक्त के लिए अपने आप को घर मे ही कैद कर लिया था।को’रो’ना की वजह से टो’क्यो ओल’म्पिक को भी 2021तक स्थगित कर दिया गया था। हालां’कि इस बीच जब अ’धिकतर

खिला’डी स’ख्त प्रोटो’कॉल के तहत ओलंपि’क की तैयारियों में भी जुटे रहे है। वही एक निशा’नेबाज ऐसा भी है जो अपनी तै’यारियों को छोड़कर लोगो की को’रो’ना से जा’न बचा’ने के लिए भी जुटा हुआ है। इस निशानेबाज ने अब गो’ल्ड मेडल भी जीत लिया है। बता दे कि ईरान के 10 मीटर एयर पि’स्टल के

tokyo olympics 2020 javad foroughi

ओ’लंपिक चेम्पि’यन जावेद फोरोगी खुद को देश का सैनि’क मानते है क्योंकि जब कोविड 19 के दौरान जब अन्य निशा’नेबाज ओलं’पिक की तैया’रियों में जुटे हुए थे तब वह अस्पताल में नर्स की भूमिका निभा रहे थे।आपको बता दे कि फ़िरोगी अभी 41साल के है। उन्होंने बीते दिनों ही 244.5अंक के

ओलंपिक रिकॉर्ड के साथ गोल्ड पदक भी जीता है। इस कामयाबी में भारत के सौरभ चौधरी भी मैदान में उतरे है। इसी बीच क्वा’लिफिकेशन में शीर्ष में रहने के बाद फाइनल में सातवें स्थान पर रहे थे। फोरोगी ने कहा है कि मैं बहुत ही खुश हूं कि मैं पिस्टल और

tokyo olympics 2020 javad foroughi

रायफल ने ईरान का पहला चैम्पियन भी बन गया हूं। उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि मुझे इस बात पर गर्व है कि मैंने देश के सै’नि’क के तौर पर अच्छा काम भी किया है ।

Leave a Comment