तु’र्की के समर्थन में आया ये मु’स्लिम देश, बोला – तु’र्की ने सी’रिया पर ह’म’ला करके कोई अ’पराध नहीं किया है

तु’र्की और अमे’रिका इन दिनों सुर्खियों में चल रहे है इसके वजह है उत्त’री सी’रि’या । आपको बता दे , उत्तरी सी’रिया पर तु’र्की ने कू’र्द ल’ड़ा’कों से ल’ड़ रही है ,इसकी वज़ह तु’र्की स’दर सी’रिया के शरणार्थी को वापस सी’रिया में ब’साने को लेकर ये का’र्यवा’ही कर रही है । ताज़ा जानकारी के अनुसार तु’र्की सद’र ने कू’र्द ल’ड़ा’कों को पीछे हट’ने के लिए 120 घंटे का समय दिया है ।

तु’र्की और कू’र्द की बीच मध्य’स्थता अमे’रिका कर रहा है । अब ये देखने वाली बात होगी कि तुर्की के अगला कदम क्या होगा । इसी कड़ी में क’तर के रक्षामंत्री खालिद बिन मोहम्मद अल अतियह का कहना है कि तु’र्की ने खुद को कू’र्द समूहों से ब’चाने के लिए काम करना कोई अप:राध न’ही है। तुर्की देश सभी लोगो की मदद को आता है। इसमें कोई ह’र्ज नही है। हम भी उसका सम’र्थन कर सकते है।

तुर्की की अच्छाई की पीछे मंत्री ने कहा कि तुर्की इस समय 40 लाख से भी ज्यादा श’रणा’र्थियों की मेज’बानी को अंजाम दे रहा है। उनकी मदद कर रहा है। मंत्री का कहना है कि अगर तु’र्की के व्यवहार खराब होता तो अब तक यू’रोप श’रणार्थी बा’ढ़ में डू’ब चुका होता। इसकी मदद करने को सबसे पहले तुर्की देश ही आया है।

इससे पहले विदेश के मंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुल रहमान ने तुर्की के बचाव करते हुए कहा कि उ’त्तरी सी’रिया में अंका’रा सै’न्य ह’म’ले का “उद्दे’श्य निकट आते ख”तरे” को न’ष्ट करना है। दोहा में ग्लोबल सुरक्षा मंच में भागीदारी के दौरान शेख मोहम्मद का कहना है कि हम तु’र्की को दो’षी नही कह सकते क्योंकि अं’कारा एक नजदीकी “ख”त”रे जवाब देता है।

जो तुर्की शां’ति को निशाना बना रहा था। उन्होंने स्पष्ट किया कि दोहा मुल्के शाम के साथ सिमा क्षेत्र में तु”र्की के कब्जे और वहां शर’णार्थी मजबूर स्थाज़नांतरण का स”मर्थन करता है। आपको बता दे, तुर्की का कई देश वि’रो’ध कर रहे है तो वही क़तर जैसे कई देश तुर्की के समर्थन में खुलकर आ गए है। इस वक़्त पूरी दुनिया की नज़र तुर्की पर बनी हुई है कि वो कु’र्दो के खि’ला’फ आगे का’र्य’वा’ही करते है या न’हीं।

Leave a Comment